उत्तर प्रदेश से सबसे ज्यादा होती है दिल्ली में हथियारों की तस्करी, मुज़फ्फरनगर समेत पश्चिम के कई ज़िले है गढ़ 

 

नई दिल्ली,। राजधानी दिल्ली में दैनिक घटनाक्रम को रोकने के साथ-साथ हथियार तस्करी भी पुलिस के लिये एक बड़ी चुनौती रही है। पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी की माने तो सबसे ज्यादा अवैध हथियार उत्तर प्रदेश से सप्लाई किये जाते है। ऐसे में दिल्ली पुलिस सुरक्षा के लिए अवैध हथियारों को लेकर भी बड़ा एक्शन लेती रही है। पुलिस द्वारा वर्ष 2020 में 2395 देशी कट्टे, 317 रिवाल्वर, 23 राइफल और 5138 कारतूस बरामद किए गए हैं।\ पुलिस के अनुसार, राजधानी में मेरठ, मुजफ्फरनगर, अलीगढ़, आगरा, मथुरा, गाजियाबाद, धार, खरगोन, बुरहानपुर, इंदौर, ग्वालियर, सेंधवा, धनबाद, खगड़िया और मुंगेर से हथियार बनाकर सप्लाई किए जाते हैं। सड़क के रास्ते इलाहाबाद, वाराणसी, मेरठ, मुजफ्फरनगर, गाजियाबाद, बुलंदशहर, गुरुग्राम आदि के रास्ते यह दिल्ली में आते हैं। वही ट्रेन के रास्ते पश्चिमी यूपी और एनसीआर से हथियार लाए जाते हैं। दिल्ली पुलिस द्वारा न केवल हथियार की बरामदगी की जाती है बल्कि इसके सोर्स का भी पता लगाया जाता है। इस कड़ी में कई ऐसे गैंग का पर्दाफाश किया गया है और फैक्ट्री में भी पुलिस पहुंची है। 

912 ड्रग्स तस्कर हुए गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस द्वारा लॉकडाउन के बावजूद मादक पदार्थ की तस्करी करने वालों पर कर्रवाही की। पुलिस ने बीते वर्ष 912 ड्रग तस्कर को गिरफ्तार कर 748 मामले दर्ज किए हैं। इसके अलावा 120 इनामी बदमाश भी वर्ष 2020 में पकड़े गए हैं। आठ बदमाशों के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने मकोका लगाई है और 1335 भगोड़े गिरफ्तार किए गए हैं। 

मादक पदार्थ बरामदगी

पदार्थ का नाम                    वजन

हेरोइन                            94 किलो

कोकीन                          1 किलो

चरस                                  24 किलो

गांजा                                   4396 किलो

अफीम                          29 किलो

From around the web