विदेशी मुद्रा भंडार 1.466 अरब डॉलर घटकर 633.614 अरब डॉलर पर

 
ब

नई दिल्ली। कोरोना की तीसरी लहर के बीच देश का विदेशी मुद्रा भंडार 31 दिसंबर को समाप्त हफ्ते में 1.466 अरब डॉलर घटकर 633.614 अरब डॉलर रह गया। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने जारी आंकड़ों में यह जानकारी दी है।

आरबीआई के आंकड़ों के मुताबिक इससे पहले 24 दिसंबर को समाप्त हफ्ते में देश का विदेशी मुद्रा भंडार 58.7 करोड़ डॉलर घटकर 635.08 अरब डॉलर रह गया था, जबकि 3 सितंबर, 2021 को समाप्त हफ्ते में विदेश मुद्रा भंडार रिकॉर्ड 642.453 के उच्च स्तर पर पहुंच गया था।

रिजर्व बैंक के साप्ताहिक आंकड़ों के मुताबिक विदेशी मुद्रा भंडार में गिरावट आने की वजह विदेशी मुद्रा आस्तियों (एफसीए) में गिरावट है, जो कुल मुद्रा भंडार का अहम हिस्सा होता है। इस दौरान एफसीए 1.48 अरब डॉलर घटकर 569.889 अरब डॉलर रह गया। हालांकि, इस दौरान स्वर्ण भंडार का मूल्य 1.4 करोड़ डॉलर बढ़कर 39.405 अरब डॉलर हो गया। आलोच्य सप्ताह में अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (आईएमएफ) के पास विशेष आहरण अधिकार 19.114 अरब डॉलर पर अपरिवर्तित रहा। अंतररराष्ट्रीय मुद्राकोष में देश का मुद्रा भंडार भी 5.207 अरब डॉलर पर पूर्ववत बना रहा।

उल्लेखनीय है कि डॉलर में अभिव्यक्त किए जाने वाले विदेशी मुद्रा आस्तियों में विदेशी मुद्रा भंडार में रखे यूरो, पौंड और येन जैसे गैर-अमेरिकी मुद्रा के घट -बढ़ को भी शामिल किया जाता है।

From around the web