शुरुआती कारोबार में रुपये में 25 पैसे की कमजोरी

 
1

नई दिल्ली। भारतीय मुद्रा बाजार में रुपये में लगातार कमजोरी का रुख बना हुआ है। डॉलर की मांग बढ़ने के साथ ही डॉलर की कीमत में अन्य प्रमुख अंतरराष्ट्रीय मुद्राओं की तुलना में आई तेजी ने आज एकबार फिर रुपये को कमजोर कर दिया। आज सुबह से ही रुपये पर डॉलर और अन्य प्रमुख विदेशी मुद्राओं का दबाव बना हुआ है, जिसकी वजह से रुपये में गिरावट जारी है। शुरुआती कारोबार में ही अभीतक रुपया 25 पैसा टूटकर प्रति डॉलर 73.85 रुपये के स्तर तक आ चुका है।

आज सुबह इंटर बैंक फॉरेन एक्सचेंज मार्केट में रुपया 17 पैसे की कमजोरी के साथ प्रति डॉलर 73.77 रुपये के स्तर पर खुला। कारोबार की शुरुआत के साथ ही रुपये कमजोरी लगातार बढ़ने लगी। डॉलर की मांग तेज होने और अन्य प्रमुख विदेशी मुद्राओं की तुलना में डॉलर की कीमत में तेजी आने से रुपये पर दबाव बढ़ता गया। इसके साथ ही भारतीय शेयर बाजार की शुरुआती कमजोरी ने भी रुपये पर दबाव बढ़ा दिया। जिसके कारण दिन के पहले कारोबारी सत्र में ही रुपया ओपनिंग लेवल से और 8 पैसा कमजोर होकर प्रति डॉलर 73.85 रुपये के स्तर पर पहुंच गया।

जानकारों का कहना है कि रुपये में गिरावट की आशंका से आयातकों ने डॉलर की हेजिंग (अग्रिम सौदा) शुरू कर दिया है। इसकी वजह से डॉलर की पोजिशन काफी मजबूत हो गई है, वहीं इसके कारण मुद्रा बाजार में रुपये के लिए निगेटिव सेंटिमेंट बन गया है। जिससे रुपये की कीमत पर लगातार दबाव बना हुआ है। बताया जा रहा है कि डॉलर की हेजिंग आने वाले दिनों जारी रह सकती है, जिसके कारण रुपये की कीमत पर प्रतिकूल असर पड़ सकता है।

इसके पहले पिछले कारोबारी दिन कल यानी बुधवार को रुपया 18 पैसे की गिरावट साथ 73.60 रुपये प्रति डॉलर के स्तर पर बंद हुआ था।

From around the web