पीएसयू बैंक सेक्टर से मिला शेयर बाजार काे सपोर्ट, आईटी सेक्टर में बिकवाली का दबाव

 
1

नई दिल्ली। भारतीय शेयर बाजार ने आज दिन के पहले कारोबारी सत्र के साथ ही दूसरे सत्र में भी करीब डेढ़ घंटे तक बिकवाली का दबाव झेलने के बाद शानदार रिकवरी की। इस जबरदस्त रिकवरी के कारण शेयर बाजार के दोनों सूचकांक निफ्टी और सेंसेक्स बढ़त के साथ बंद होने में सफल हुए। शेयर बाजार की इस रिकवरी के पीछे मुख्य रूप से पीएसयू बैंक सेक्टर का योगदान रहा, जिसमें हुई शानदार खरीदारी ने शेयर बाजार को काफी सपोर्ट किया।

आज दिन भर के कारोबार के दौरान शेयर बाजार की शानदारी रिकवरी में पीएसयू बैंक सेक्टर के अलावा मीडिया सेक्टर, एफएमसीजी, मेटल, ऑटो और रियल्टी सेक्टर का बड़ा योगदान रहा। आईटी सेक्टर ने आज एक बार फिर दिन भर शेयर बाजार पर बिकवाली का दबाव बनाए रखा।

दिन भर के कारोबार के बाद निफ्टी में शामिल पीएसयू बैंक इंडेक्स 3.08 फीसदी, मीडिया इंडेक्स 1.47 फीसदी, एफएमसीजी इंडेक्स 1.22 फीसदी, मेटल इंडेक्स 1.09 फीसदी, ऑटो इंडेक्स 0.88 फीसदी, रियल्टी इंडेक्स 0.73 फीसदी, एनर्जी इंडेक्स 0.43 फीसदी, प्राइवेट बैंक इंडेक्स 0.35 फीसदी, फाइनेंशियल सर्विसेज इंडेक्स 0.33 फीसदी और फार्मा इंडेक्स 0.09 फीसदी की तेजी के साथ बंद हुए दूसरी ओर निफ्टी के आईटी इंडेक्स ने 0.88 फीसदी की कमजोरी के साथ आज के कारोबार का अंत किया।

दिनभर चले कारोबार के बाद आज सेंसेक्स में शामिल 30 शेयरों में से 17 शेयर मजबूती के साथ हरे निशान में कारोबार करके बंद हुए, वहीं 13 शेयर गिरावट के साथ लाल निशान में कारोबार करने के बाद बंद हुए। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में आज कुल 3,478 शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें से 1,772 शेयर मजबूती के साथ हरे निशान में कारोबार करने के बाद बंद हुए। वहीं 1,573 शेयर बिकवाली के दबाव में लाल निशान में कारोबार करके बंद हुए। जबकि 133 शेयरों के दाम में कोई परिवर्तन नहीं हुआ।

आज के कारोबार के बाद बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टेड कंपनियों के कुल मार्केट कैप में करीब 1 लाख करोड़ रुपये की बढ़ोतरी हो गई। आज के कारोबार के बाद बीएसई में लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप बढ़कर 268.06 लाख करोड़ रुपये हो गया। इसके पहले सोमवार का कारोबार बंद होने के बाद इन कंपनियों का कुल मार्केट कैप 267.12 लाख करोड़ रुपये था।

आज के कारोबार के दौरान बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में 342 शेयरों ने 52 हफ्ते के ऊपरी स्तर तक पहुंचने में सफलता हासिल की, जबकि 18 शेयर 52 सप्ताह के निचले स्तर पर लुढ़क गए। इसके अलावा आज लिवाली के बल पर 440 शेयरों में अपर सर्किट लगा, वहीं 215 शेयर भारी बिकवाली के कारण लोअर सर्किट का शिकार हो गए।

From around the web