दिल्ली में राजेंद्र नगर विधानसभा उपचुनाव के लिए मतदान शुरू

 
tg
नई दिल्ली। दिल्ली के राजेंद्र नगर विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए मतदान शुरू हो गया है, मतदाताओं ने सुबह सात बजे पोलिंग बूथ पर आकर मतदान किया। क्षेत्र के 21 विभिन्न स्थानों पर कुल 190 मतदान केंद्र हैं, जहां मतदान शाम छह बजे तक चलेगा। राजेंद्र नगर से विधायक रहे राघव चड्ढा के राज्यसभा जाने के बाद यह सीट खाली हो गई थी। वह खुद सुबह 9 बजे मतदान करने पहुंचे, जबकि भाजपा उम्मीदवार राजेश भटिया सुबह 8 बजे मतदान करने पहुंचे। इस क्षेत्र में आम आदमी पार्टी (आप) ने दुर्गेश पाठक को मैदान में उतारा है, जबकि भाजपा ने राजेश भाटिया को उम्मीदवार बनाया है, जो इसी क्षेत्र के रहने वाले हैं। उधर कांग्रेस ने महिला उम्मीदवार प्रेमलता पर दांव चला है।

राजेंद्र नगर विधानसभा सीट पर पिछले दो चुनावों से आप का कब्जा रहा है, साल 2015 में इस सीट से विजेंद्र गर्ग विजय ने जीत हासिल की थी और फिर साल 2020 में राघव चड्ढा ने जीत दर्ज की।

निर्वाचन क्षेत्र में मतदाताओं की कुल संख्या 1,64,698 है, जिसमें 92,221 पुरुष, 72, 473 महिला और 4 थर्ड जेंडर वोटर शामिल हैं। इसके अलावा, 591 दिव्यांग मतदाता 39 दृष्टिबाधित मतदाता और 64 सेवा मतदाता भी शामिल हैं। साथ ही, नए मतदाताओं की संख्या 1,899 है। परिणामस्वरूप, लिंग अनुपात 786 है।

वोट डालने के दौरान सभी मतदाताओं को कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करना होगा और वोट डालते समय मास्क पहनना अनिवार्य है। मतदान के अंतिम एक घंटे का उपयोग उन मतदाताओं के लिए किया जाएगा जो कोरोना पॉजिटिव हैं और मतदान करना चाहते हैं। संक्रमित मतदाताओं के लिए एम्बुलेंस की व्यवस्था की गई है।

मतदान केंद्रों पर सेल्फी बूथ बनाए गए हैं, जिनके द्वारा मतदाता सेल्फी ले सकते हैं और सोशल मीडिया पर पोस्ट करके अन्य मतदाताओं को वोट डालने के लिए प्रोत्साहित कर सकते हैं।

इसके अलावा दिव्यांग मतदाताओं, वरिष्ठ नागरिकों (80 से अधिक), गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए मुफ्त पिक एंड ड्रॉप सुविधा प्रदान भी की जाएगी।

उपचुनाव के सुचारु संचालन के लिए केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) की छह कंपनियों को तैनात किया गया है। इसमें चार पुरुष और दो महिला बल शामिल हैं। इसके अलावा 308 दिल्ली पुलिस कर्मियों और 177 होमगार्ड को भी तैनात किया गया है।

दरअसल, इस विधानसभा सीट पर 1993 के बाद अब तक हुए सात विधानसभा चुनाव में चार बार भाजपा ने और दो बार आम आदमी पार्टी ने जीत हासिल की है। कांग्रेस ने इस सीट पर अब तक सिर्फ एक बार 2008 में जीत हासिल की थी। 2015 और 2020 में आप ने ही जीत हासिल की थी, इसलिए अगर इस बार आप उम्मीदवार जीतता है तो यह उसकी हैट्रिक होगी। भाजपा के पूरन चंद योगी ने 1993 से 2003 तक लगातार तीन बार जीत हासिल कर हैट्रिक लगाई थी।

 

From around the web