फर्जी भारतीय पासपोर्ट के जरिए दोहा जाने का प्रयास, सीआईएसएफ ने पकड़ा

 
1

नई दिल्ली। केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) ने फर्जी भारतीय पासपोर्ट के जरिए दोहा जाने की कोशिश कर रहे तीन बांग्लादेशी नागरिकों को पकड़ा है। उनके पास से फर्जी भारतीय पासपोर्ट मिला है। सीआईएसएफ कर्मियों ने नागरिकों को एयरपोर्ट पुलिस के हवाले कर दिया है। पुलिस आरोपित यात्रियों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्जकर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है और उनसे पूछताछ कर जांच में जुट गई है।

सीआईएसएफ के प्रवक्ता अपूर्व पांडेय ने बताया कि इंदिरा गांधी एयरपोर्ट पर तैनात सीआईएसएफ की निगरानी और खुफिया टीम ने 11 सितम्बर की शाम 4.30 बजे पर टर्मिनल तीन पर तीन यात्रियों को संदिग्ध हालत में घूमते हुए देखा। शक होने पर तीनों यात्रियों को हिरासत में लेकर सीआईएसएफ की टीम ने पूछताछ की। तीनों ने अपना नाम साहिदुल शेख, सलाम सरदार और अख्तरुज्जमां तालुकदार बताया। साथ ही बताया कि तीनों भारतीय हैं और कतर एयरवेज की फ्लाइट से दोहा जाने के लिए एयरपोर्ट आए हैं। हालांकि पूछताछ और सामान की तलाशी के दौरान तीनों घबरा गए। साहिदुल के पास से मिले मोबाइल की जांच के दौरान जवानों को रसल नाम का एक बांग्लादेशी पासपोर्ट की सॉफ्ट कॉपी मिली। जिसकी जानकारी उन्होंने तुरंत आला अधिकारी और इमीग्रेशन विभाग को दी।

इसके बाद इमीग्रेशन विभाग के अधिकारियों ने यात्रियों के पास से बरामद भारतीय पासपोर्ट की जांच की। जांच में तीनों पासपोर्ट फर्जी निकले। सीआईएसएफ और इमीग्रेशन विभाग के अधिकारियों ने यात्रियों को आईजीआई एयरपोर्ट थाना पुलिस के हवाले कर दिया।

सीआईएसएफ के जवान के बयान पर पुलिस ने यात्रियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। अभी तक की जांच में पता चला है कि तीनों यात्री फर्जी भारतीय पासपोर्ट के जरिए विदेश जाने की कोशिश कर रहे थे। पुलिस इस बात का पता लगा रही है कि इन लोगों ने किसकी मदद से फर्जी पासपोर्ट बनवाए।

From around the web