दिल्ली-एनसीआर में भारी बारिश, लगा लंबा जाम

 
न
नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी और इसके आसपास के शहरों नोएडा और गुरुग्राम में रात भर बारिश हुई, जिसके कारण शुक्रवार की सुबह प्रमुख सड़कों पर जलभराव और यातायात की गति धीमी हो गई। गुरुग्राम और नोएडा में प्रशासन ने मौसम को ध्यान में रखते हुए अपने क्षेत्र में स्पेशल एडवाइजरी जारी की। गुरुग्राम प्रशासन ने निजी संस्थानों और कॉरपोरेट कार्यालयों को अपने कर्मचारियों को सड़कों पर ट्रैफिक से बचने के लिए वर्क फ्रॉम होम कर की सलाह दी। नोएडा में आठवीं कक्षा तक के सभी सरकारी और निजी स्कूल बंद रहेंगे। लगातार बारिश के कारण शहर की कई सड़कें जलमग्न हो गईं।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने दिल्ली के लगभग सभी क्षेत्रों में सामान्य रूप से बादल छाए रहने और मध्यम बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ने की भविष्यवाणी की है।

पिछले 24 घंटों में, शहर में 72 मिमी बारिश हुई। वहीं अधिकतम तापमान सामान्य से सात डिग्री कम 28 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। शुक्रवार को भी अधिकतम तापमान गुरुवार के समान ही रहने की संभावना है।

सुबह 8.30 बजे आईएमडी अपडेट के अनुसार, शहर में ह्यूमिडिटी 100 प्रतिशत थी और हवा पूर्वी दिशा में 7.5 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही थी। शहर में सुबह 6.10 बजे सूर्योदय हुआ और शाम 6.17 बजे सूरज डूबने की संभावना है।

सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (एसएएफएआर) के अनुसार, शहर में वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) पीएम10 के लिए 41 और पीएम 2.5 के लिए 23 था। चूंकि दोनों ही मामले 'अच्छे स्तर' पर थे, विभाग ने कहा कि 'कोई एहतियाती कार्रवाई की आवश्यकता नहीं है।'

विशेष रूप से, दिल्ली में 36 निगरानी केंद्र हैं, जो हवा की गुणवत्ता के स्तर को सटीक रूप से रिकॉर्ड करते हैं।
 

From around the web