दिल्ली में कोरोना की वैक्सीन को डोर टू डोर देने की मांग, हाईकोर्ट में याचिका 

 

नई दिल्ली। दिल्ली हाईकोर्ट में एक याचिका दायर कर दिल्ली में कोरोना की वैक्सीन को डोर टू डोर कैंपेन की तरह देने की मांग की गई है। याचिका में कहा गया है कि राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। ऐसे में कोरोना की वैक्सीन सभी को जल्द से जल्द मिले तो बेहतर है। याचिका दिल्ली युनिवर्सिटी के लॉ स्टूडेंट मृगांक मिश्रा ने दायर किया है। 

याचिकाकर्ता की ओर से वकील कुशल कुमार ने कहा है कि कोरोना के वैक्सीन को लेकर आयु सीमा हटाया जाए। वर्तमान में केवल 45 वर्ष से ज्यादा के उम्र के लोगों को वैक्सीन दी जा रही है, वो भी चुनिंदा सेंटर पर। याचिका में कहा गया है कि जब सरकार लॉकडाउन की किसी भी संभावना से इनकार कर रही है। ऐसे में कोरोना के वैक्सीन के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर बढ़ाने की जरुरत है।

याचिका में कहा गया है कि दिल्ली, महाराष्ट्र और राजस्थान जैसे राज्यों ने केंद्र सरकार से मांग की है कि कोरोना के वैक्सीन देने के लिए उम्र की सीमा खत्म की जाए, लेकिन केंद्र सरकार ने इस मांग को खारिज कर दिया है। याचिका में कहा गया है कि इंडियन मेडिकल एसोसिएशन(आईएमए) ने भी केंद्र सरकार से कोरोना के वैक्सीन के लिए उम्र सीमा खत्म करने की मांग की है। आईएमए ने कहा है कि वैक्सिनेशन के लिए निजी सहायता भी ली जाए।

From around the web