खरीदारी को आसान बनाएगा एआर आधारित फ्लिपकार्ट कैमरा

 
1
बेंगलुरू। घरेलू ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस फ्लिपकार्ट ने बुधवार को फ्लिपकार्ट ऐप पर एक ऑगमेंटेड रियलिटी (एआर) क्षमता वाले फ्लिपकार्ट कैमरा के साथ एक इमर्सिव ई-कॉमर्स अनुभव पेश किया। यह नई पेशकश खरीदारों को खरीदारी करने से पहले कल्पना से अनुभव करने में सक्षम बनाएगी कि कोई उत्पाद वास्तव में कैसा दिखेगा।

कंपनी ने कहा कि फ्लिपकार्ट कैमरा का उद्देश्य ग्राहकों के लिए ऑनलाइन अनुभव को अधिक आकर्षक और फायदेमंद बनाना है और उन्हें अवगत निर्णय (इन्फॉम्र्ड डिसिजन) लेने में मदद करना है।

फ्लिपकार्ट के मुख्य उत्पाद और प्रौद्योगिकी अधिकारी जयंद्रन वेणुगोपाल ने एक बयान में कहा, फ्लिपकार्ट कैमरा फीचर के साथ, हमारा लक्ष्य उपभोक्ता के लिविंग रूम से ही आराम से उत्पादों के इन-हाउस प्रदर्शनों की पेशकश करके इस अनुभव को एक पायदान ऊंचा बनाना है, जिससे उन्हें खरीदने से पहले एक सूचित निर्णय लेने में मदद मिलती है।

वेणुगोपाल ने कहा, इस तकनीक के दूरगामी अनुप्रयोग हैं और यह ग्राहकों के अनुभव को कई गुना बेहतर कर सकता है, साथ ही ग्राहकों को सही उत्पाद खोजने में मदद करता है।

फर्नीचर, लगेज और बड़े उपकरणों जैसी श्रेणियों में, जहां ग्राहकों को खरीदारी का निर्णय लेने से पहले उत्पाद के आकार और उसके फिट होने या न होने का अनुमान लगाने और इसके सौंदर्य को समझने की आवश्यकता होती है, ग्राहक फ्लिपकार्ट कैमरा का उपयोग करके उत्पादों का एक ²श्य (3 डी के साथ) अनुभव प्राप्त कर सकते हैं।

एक अन्य महत्वपूर्ण श्रेणी, जहां यह क्षमता ग्राहकों के विश्वास का निर्माण करेगी और अनुमान को हटा देगी, वह है ब्यूटी कैटेगरी, जिसमें ग्राहकों को निर्णय लेने से पहले उत्पादों को आजमाने का मौका मिलता है।

स्मार्टफोन के तेजी से अपनाने की धारणा के साथ ही ग्राहकों के बीच अब ऑगमेंटेड रियलिटी के उपयोग को भी बढ़ावा मिला है।

गार्टनर की एक रिपोर्ट के अनुसार, जेन जेड और मिलेनियल्स एआर और वर्चुअल रियलिटी (वीआर) सुविधाओं की मांग को बढ़ा रहे हैं, 30 प्रतिशत सैंपल स्पेस अपने खरीदारी अनुभव में अधिक एआर/वीआर क्षमताओं को शामिल करना चाहते हैं।

From around the web