शामली समेत सभी ज़िलों में तेजी से किये जाएँ पुलिस और पीएसी के निर्माण,योगी ने दिए निर्देश 

 
न
लखनऊ - उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को कहा कि पुलिस ट्रेनिंग स्कूलों में प्रशिक्षण क्षमता को दोगुना किए जाने की व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं।

श्री योगी ने पुलिस विभाग से सम्बन्धित विभिन्न निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा करते हुये कहा कि कासगंज, अमरोहा, अमेठी, शामली, संभल, औरेया, चंदौली, हापुड़ में पुलिस लाइन्स नहीं हैं वहां आवासीय और अनावासीय भवनों के निर्माण के लिये प्रस्तावों पर सभी औपचारिकताएं पूर्ण कर तेजी से कार्यवाही की जाए।

उन्होने कहा कि नवस्थापित पीएसी बटालियन के तहत गोरखपुर, बदायूं व लखनऊ में महिला पीएसी वाहिनी तथा जालौन, शामली व अयोध्या में पुरुष पीएसी वाहिनी के लिये आवासीय/अनावासीय भवनों के निर्माण की प्रक्रिया में तेजी लायी जाए। उन्होंने कहा कि महिला पीएसी वाहिनी के निर्माण सम्बन्धी कार्यों के प्रस्तावों पर प्राथमिकता पर कार्यवाही की जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस कार्यों के लिये आधुनिक तकनीक और आधुनिकीकरण समय की आवश्यकता है। पुलिस आधुनिकीकरण योजना के तहत रेडियो, तकनीकी सेवाएं, सुरक्षा, एस0टी0एफ0, फायर सर्विस एवं लाॅजिस्टिक्स के उपकरण, आर्म्स  एम्युनिशन हेतु क्रय सम्बन्धी कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि लखनऊ सेफ सिटी योजना के तहत इण्टीग्रेटेड कण्ट्रोल रूम, पिंक बूथ, पिंक टाॅयलेट, आशा ज्योति केन्द्र के भवन निर्माण कार्यों में भी तेजी लायी जाए। सड़क सुरक्षा कोष के तहत यातायात नियंत्रण के लिये उपयोगी विभिन्न उपकरणों को क्रय किया जाए।

यूपी ‘112’ तथा फायर सर्विस, एसडीआरएफ,पीएसी के लिये उपयोगी उपकरणों से सम्बन्धित क्रय कार्यों को भी समयबद्ध ढंग से सम्पादित किया जाए। विधि विज्ञान प्रयोगशालाओं से सम्बन्धित उपकरणों को भी प्राथमिकता के स्तर से क्रय करने की कार्यवाही की जाए।

From around the web