ई-फाइलिंग पोर्टल को जल्द दुरुस्त कर लिया जायेगा: नंदन निलेकणी 

 
1

नई दिल्ली। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के नए टैक्स ई-फाइलिंग पोर्टल को तैयार करने वाली कंपनी इंफोसिस के को फाउंडर नंदन नीलेकणी ने भरोसा दिलाया है कि सिस्टम को जल्दी ही दुरुस्त कर लिया जाएगा। 

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के पुराने टैक्स फाइलिंग पोर्टल की जगह 7 जून को नए टैक्स ई-फाइलिंग पोर्टल की शुरुआत की गई है। इस नए पोर्टल की शुरुआत के समय दावा किया गया था कि पुराने पोर्टल की तुलना में इसे ज्यादा बेहतर बनाया गया है, जिससे करदाताओं को टैक्स ई फाइलिंग में पहले की तुलना में अधिक सहूलियत होगी। लेकिन लॉन्च होने के कुछ मिनट बाद ही ये पोर्टल हेवी ट्रेफिक को संभाल नहीं सका और क्रैश कर गया। 

शाम को जब इस पोर्टल को दोबारा शुरू किया गया तो शुरुआती घंटे में ही इस पोर्टल में गड़बड़ियों की शिकायत आने लगी। जिसके बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इंफोसिस और उसके को फाउंडर नंदन नीलेकणी को टैग करते हुए लिखा कि इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के ई फाइलिंग पोर्टल 2.0 का लंबे समय से इंतजार था। इसे सोमवार रात 8:45 बजे लॉन्च किया गया, लेकिन मैं अपने टाइम लाइन में कई लोगों की शिकायत देख रही हूं। आशा करती हूं कि इंफोसिस और नंदन नीलेकणी करदाताओं को सर्विस की क्वालिटी में कमी नहीं होने देंगे। करदाताओं के लिए प्रक्रिया को आसान बनाना हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए। 

केंद्रीय वित्त मंत्री की इस शिकायती पोस्ट के बाद इंफोसिस के को फाउंडर नंदन नीलेकणी ने इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के नए टैक्स ई फाइलिंग पोर्टल में हुई शुरुआती गड़बड़ियों के लिए पछतावा जताते हुए लिखा कि नया ई फाइलिंग पोर्टल इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की प्रक्रिया को आसान करेगा और यूजर्स के लिए मददगार होगा। नीलेकणी ने वित्त मंत्री को टैग करते हुए लिखा कि हमने पहले दिन कुछ तकनीकी गड़बड़ियां देखी हैं और उन्हें ठीक करने के काम में लगे हुए हैं। इंफोसिस को इन शुरुआती गड़बड़ियों पर पछतावा है और हम आशा करते हैं कि इसी सप्ताह के अंदर सिस्टम को ठीक कर लिया जाएगा। 

आपको बता दें इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के पुराने ई फाइलिंग पोर्टल की जगह नए पोर्टल को लॉन्च करने की जिम्मेदारी देश की टॉप आईटी कंपनी इंफोसिस को सौंपी गई थी, ताकि वह इनकम टैक्स की ई फाइलिंग के लिए नेक्स्ट जेनरेशन स्तर का नया पोर्टल तैयार कर सके। इनकम टैक्स विभाग ने नए पोर्टल को लॉन्च करने के लिए पुराने पोर्टल को 31 मई का काम खत्म होने के तुरंत बाद ही बंद कर दिया था। 1 जून से लेकर 6 जून तक ई फाइलिंग पोर्टल पूरी तरह से बंद रहा। उसके बाद 7 जून को ही नये ई फाइलिंग पोर्टल को लांच किया गया। 

पोर्टल को तैयार करने वाली कंपनी इंफोसिस के साथ ही इनकम टैक्स डिपार्टमेंट का दावा है कि नए ई फाइलिंग पोर्टल के जरिए इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने में करदाताओं को अधिक आसानी होगी। इसके साथ ही इस पोर्टल के जरिए इनकम टैक्स रिटर्न को प्रोसेस करने में समय भी कम लगेगा। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को उम्मीद है एक बार नए पोर्टल के सुचारू रूप से काम करना शुरू कर देने के बाद करदाताओं को आने वाले दिनों में काफी सहूलियत होगी। 

From around the web