पूर्व केन्द्रीय मंत्री ऑस्कर फर्नाडीज का निधन

 
1
मंगलुरु। वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री ऑस्कर फर्नाडीज का सोमवार को निधन हो गया। वह 80 वर्ष के थे। फर्नाडीज का एक दुर्घटना में घायल हो जाने के बाद यहां के येनेपोया अस्पताल में जुलाई से इलाज चल रहा था। वह आईसीयू में भर्ती थे। उनके परिवार में पत्नी और दो संतान हैं।

फर्नाडीज का 27 मार्च 1941 को जन्म हुआ था। उनके पिता का नाम रोक फर्नाडीज और माता का नाम लियोनिसा फर्नाडीज था। उनकी मां अविभाजित दक्षिण कन्नड जिले की पहली महिला पीठ मजिस्ट्रेट थीं। राजनीति में आने से पहले उन्होंने भारतीय जीवन बीमा निगम में कुछ समय तक नौकरी की। इसके बाद वह मणिपाल में एक उद्यम से भी जुड़े।

ऑस्कर की कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी नेता राहुल गांधी के साथ बहुत नजदीकी थी। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के संसदीय सचिव के रूप में भी काम किया। उन्होंने मनमोहन सिंह कैबिनेट में परिवहन और श्रम विभाग के मंत्री का दायित्व संभाला। वह कांग्रेस की चुनाव समिति के अध्यक्ष भी रहे। उन्होंने कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष के रूप में दो बार अपनी सेवायें दी।

उन्हें 1998 और 2004 में राज्य सभा का सदस्य चुना गया। उन्होंने केन्द्रीय मंत्री के रूप 2004 से लेकर 2009 तक अपनी सेवायें दी। इस दौरान उन्होंने मंत्री के रूप में सांख्यिकी, युवा और खेल तथा प्रभावी भारतीय मामलों के अलावा अन्य विभागों का दायित्व संभाला।

फर्नाडीज विभिन्न खेलों में भी निपुण थे। वह कुचिपुडी नर्तक और सक्षम म्यूजिकल इन्स्ट्रेूमेंट प्लेयर थे। वह हारमोनियम भी बहुत अच्छा बजाते थे। कीबोर्ड और तबला वादक होने के साथ ही वह कवितायें लिखते और गाते भी थे। उन्होंने सेंट सेसिली कान्वेंट स्कूल तथा एमजीएम कालेज, उडुपि से शिक्षा ग्रहण की।

From around the web