गंगा में आस्था रखने वालों के साथ सरकार ने किया धोखा : अखिलेश यादव

 
1

कानपुर। भाजपा के लोगों ने गंगा का पानी लेकर मां गंगा की कसम खाये थे कि गंगा को साफ करेंगे, लेकिन कानपुरवासियो बताओ कि गंगा कहां साफ हुई। उत्तर प्रदेश में छोटी से लेकर बड़ी नदियां उसी तरह गंदी पड़ी हैं और उन लोगों ने सिर्फ अपना जेब भरा है। इससे गंगा में आस्था रखने वालों के साथ सरकार ने बहुत बड़ा धोखा दिया है। यह बातें कानपुर में मंगलवार को विजय रथ यात्रा पर निकले सपा अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कही।

उन्होंने कहा कि समाजवादी विजय रथ यात्रा के जरिये किसानों का सम्मान दिलाया जाएगा। सरकार आने पर बेरोजगारों को रोजगार दिलाया जाएगा। कानपुर एक औद्योगिक शहर रहा है और उतर प्रदेश का सबसे बड़ा शहर भी है। इसका उद्योग कारोबार चले इस दिशा में काम किया जाएगा। कोविड के समय हमने देखा है कि लोग किस तरह से परेशान रहे। क्या दवाई मिली नहीं मिली, यहां तक डॉक्टरों का यह सरकार इलाज नहीं करा पायी। लोग मरते रहे और सरकार झूठा अपनी वाहवाही के लिए झूठा प्रचार करती रही। आगे कहा कि मेट्रो वही चल रही है जो उत्तर प्रदेश में समाजवादी सरकार में दी गई थी। पनकी का पॉवर प्लांट अभी भी वही है जो समाजवादी पार्टी ने दिया। जिस प्लांट में मैं जा रहा हूं घाटमपुर में वो भी समाजवादी पार्टी की देन है।

भाजपा से नहीं चाहिये सर्टिफिकेट

अखिलेश यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने काम रोका है विकास रोका है। केवल इन लोगों ने जातीय नफरत और धार्मिक नफरत फैलाई है। इसलिए उत्तर प्रदेश की जनता इनका सफाया करेगी। साफ्ट हिन्दू या हिन्दू कोई सवाल नहीं है भारतीय जनता पार्टी बताये हम हिन्दू है या नहीं है यह सर्टिफिकेट भारतीय जनता पार्टी से हमें नहीं चाहिए। उत्तर प्रदेश की जनता को सस्ती बिजली मिले कितनी बिजली मिले इसके लिए आने वाले समय में हम लोग ये तय करेंगे। इस पर कार्य किया जा रहा है।

From around the web