जयंत बोले- अखिलेश से हुई है पूरी बातचीत, हर सीट पर हो चुकी है चर्चा, लोकक्रांति रथ यात्रा फिलहाल स्थगित

 
व

नई दिल्ली। शुक्रवार को राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह की अध्यक्षता में राष्ट्रीय कार्यकारिणी और अग्रिम संगठनों के राष्ट्रीय अध्यक्षों की वर्चुअल बैठक आयोजित की गई।

बैठक में जयंत चौधरी ने देश में फैली कोरोना महामारी को लेकर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि केंद्र और राज्य सरकार ने जो गलती की है वह अब न हो। एक बार फिर जिस प्रकार कोविड संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है उसको देखते हुए सजग रहने की आवश्यकता है।

इस दौरान लोकदल राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी ने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से हुई मुलाकात की जानकारी बैठक में सदस्यों को देते हुए कहा कि आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों को लिए समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल का गठबंधन तय हो चुका है। उन्होंने कहा कि गुरुवार को लखनऊ में आयोजित बैठक में हर विधानसभा सीट पर उपयुक्त उम्मीदवार को लेकर चर्चा की गई। यह गठबंधन उत्तर प्रदेश के युवा, किसान, महिलाओं, वंचितों और समाज के वर्गों के सर्वागीण विकास और दवाई, कमाई और पढ़ाई के जमीनी मुद्दों को लेकर आगे बढ़ेगा।

आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर राष्ट्रीय लोकदल के प्रत्याशियों के चयन एवं नीतिगत निर्णयों में राष्ट्रीय अध्यक्ष के सहयोग हेतू राष्ट्रीय कार्यकारिणी ने राष्ट्रीय अध्यक्ष को एक संसदीय समिति गठित करने के लिए अधिकृत किया। उन्होंने बताया कि यह समिति समय-समय पर अपने सुझाव राष्ट्रीय अध्यक्ष को देगी।

योगी सरकार द्वारा बिजली बिलों में छूट और राशन देने की घोषणा पर चौधरी जयंत ने कहा कि चुनाव के समय यह घोषणाएं जनता के साथ सरकारी भ्रष्टाचार और लूट-खसोट का प्रमाण है। जयंत चौधरी ने कहा कि आशीर्वाद पथ कार्यक्रमों में की गई राष्ट्रीय लोकदल के लोकसंकल्प पत्र और हमारे गठबंधन की प्रभावी घोषणाओं के दबाव में योगी सरकार यह निर्णय ले रही है।

बैठक में राष्ट्रीय लोकदल की राष्ट्रीय कार्यकारिणी ने यह निर्णय लिया कि आगामी 15 जनवरी से श्रद्धेय चौधरी अजीत सिह की जयंती 12 फरवरी तक चुनावी अभियान को सफल तरीके से जन-जन तक पहुंचाने के लिए गांव-गली दस्तक का संचालन किया जाएगा।

From around the web