केरल की पलक्कड़ सीट से हारे मेट्रो मैन ई. श्रीधरन, कांग्रेस के शफी परमबिल की जीत

 
केरल की पलक्कड़ सीट से हारे मेट्रो मैन ई. श्रीधरन, कांग्रेस के शफी परमबिल की जीत

केरल की पलक्कड़ सीट से बीजेपी के ई. श्रीधरन को चुनावी हार का सामना करना पड़ा है। मेट्रो प्रोजेक्ट्स को गति देने के चलते मेट्रो मैन के तौर पर पहचान रखने वाले श्रीधरन के लिए राजनीतिक प्रयोग कामयाब नहीं रहा है। केरल में इस बार बीजेपी ने चुनाव प्रचार में काफी जोर लगाया था। राज्य में मुख्य मुकाबला कांग्रेस की लीडरशिप वाले यूडीएफ और लेफ्ट फ्रंट के एलडीएफ के बीच है। हालांकि इस बार बीजेपी ने भी इस राज्य में खासा जोर लगाया है। पीएम नरेंद्र मोदी और होम मिनिस्टर अमित शाह समेत बीजेपी ने कई केंद्रीय मंत्रियों को राज्य में प्रचार के लिए भेजा था। 2016 में केरल में बीजेपी को 1 ही सीट मिली थी। 

इस बार एग्जिट पोल्स में बीजेपी को 1 से 5 सीट तक मिलने की भविष्यवाणी की गई है। इनमें से एक सीट पलक्कड़ पर भी सभी की निगाहें हैं। यहां से बीजेपी ने मेट्रो मैन कहे जाने वाले ई. श्रीधरन को चुनावी समर में उतारा है। केरल को मेट्रो की तरह तेज रफ्तार से विकास की राह पर आगे ले जाने के वादे के साथ उतरे ई. श्रीधरन पहील बार चुनावी समर में उतरे हैं। उनका मुकाबला कांग्रेस के शफी परमबिल से है। 2016 में उन्होंने बीजेपी की शोभा सुरेंद्रन को चुनावी समर में मात दी थी। शफी परमबिल को 2016 में इस सीट पर 41.77 फीसदी वोट मिले थे।

From around the web