राज बब्बर ने चुनाव आयुक्त की नियुक्ति पर उठाए सवाल, लिखा- कमाल का संयोग, तीनों चुनाव आयुक्त यूपी वाले !

 
न

लखनऊ । उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग भले ही अगले साल होगी, लेकिन इसकी गूंज अभी से सुनाई देने लगी है। आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दिल्ली में पार्टी के आला नेताओं के साथ-साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बैठक करेंगे। वहीं, उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष राज राज बब्बर ने चुनाव आयोग के आयुक्तों की नियुक्ति पर एक तरह से सवाल उठा दिए हैं। राज बब्बर ने  एक ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, 'ये भी कमाल का संयोग है। फ़िलहाल चुनाव आयोग में तीनों चुनाव आयुक्त यूपी वाले हैं! उन्होंने अपने ट्वीट के साथ #UPElection2022 का इस्तेमाल किया है।

उत्तर प्रदेश कैडर के 1984 बैच के रिटायर आईएएस अधिकारी अनूप चंद्र पांडेय को हाल ही में चुनाव आयुक्त नियुक्त किया गया है। इनकी नियुक्ति के बाद अब चुनाव आयोग में मुख्य चुनाव आयुक्त समेत तीन लोग हो गए हैं। अनूप चंद्र पांडेय 2019 में उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव के पद से रिटायर हुए थे। हालांकि, योगी सरकार ने उनका कार्यकाल 6 महीने के लिए बढ़ा दिया था। पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोरा के रिटायर होने के बाद से 3 सदस्यीय कमीशन  में एक पद खाली था। अब अनूप चंद्र की नियुक्ति के बाद तीनों पद भर गए हैं। अनूप चंद्र पांडेय की नियुक्ति को लेकर लगातार सवाल उठाए जा रहे हैं। उनके ट्वीटर कवर फोटो को भी मुद्दा बनाया गया, जिसमें वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ दिख रहे थे।

राज बब्बर के इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियाएं भी आने लगी। एक यूजर ने कहा कि ये महज संयोग नहीं यूपी चुनाव के लिए सफल प्रयोग है लेकिन बड़का झूठा पार्टी को जनता हार का करेंट लगा कर ही दम लेगी। दूसरे ने लिखा कि संयोग नहीं प्रयोग है। तीसरी यूजर का कहना है कि यह तो यूपी चुनाव की तैयारी है। लेकिन इस बार जनता मौजूदा सरकार को उखाड़ फेंकेगी। अब ये तो सोशल मीडिया का रिएक्शन है। लेकिन इसके इतर राजनीतिक दलों से भी प्रतिक्रिया आई, बीजेपी जानबूझकर यूपी विधानसभा चुनाव से पहले फील्डिंग कर रही है। जिस तरह से चुनाव आयोग जैसी संस्थाओं का दुरुपयोग किया जा रहा है उससे साफ है कि बीजेपी किसी तरह से सत्ता में बनी रहना चाहती है।

From around the web