योगीराज में चोरी हो गई सड़क, बोले सचिव- यहीं तो बनाई थी साहब लगता है चोरी हो गई

 
1

चंदौली। अभी तक लोगों का सामान और घोड़ा, गाड़ी चोरी होने के किस्से सुनने को मिलते थे। लेकिन योगीराज में सड़कें ही चोरी होना शुरू हो गई। जी हां चंदौली जिले के ग्राम पंचायत अमृतपुर में घोटाले की शिकायत पर जांच करने पहुंचे डीपीआरओ को मौके पर इंटरलॉकिंग सड़क ही नहीं मिली। पूछताछ में ग्राम सचिव ने कहा कि सड़क तो यही बनाई थी, लगता है किसी ने चोरी कर ली। इस पर फटकार लगाते हुए डीपीआरओ ने कहा कि सड़क कैसे चोरी हो गई? यदि सड़क चोरी ही हो गई थी तो मुकदमा क्यों नहीं दर्ज कराएं। इस पर सचिव के पास कोई जवाब नहीं था।

आपको बता दें कि गांव के शिकायतकर्ता विनोद कुमार यादव ने जिलाधिकारी को बताया कि प्राथमिक विद्यालय विनायकपुर में टाइल्स, प्राथमिक विद्यालय वृंदावन में स्नानागार  तथा इंटरलॉकिंग सड़क का निर्माण कराए बिना लाखों रुपए की सरकारी धनराशि का बंदरबांट कर लिया गया है। जिसके संदर्भ में शनिवार को ही एडीओ पंचायत को प्रविष्टि दी गई। जिसके बाद डीएम के निर्देश पर निरीक्षण करने पहुंचे डीपीआरओ ब्रह्मचारी दुबे को मौके पर सड़क ही नहीं मिली जबकि पंचायत सचिव ने डीएम को बताया था कि बलवंत यादव के घर के पास इंटरलॉकिंग बना दी गई है। वही 171 शौचालय निर्माण में भी खामियां पाई गई। जिसके बाद डीपीआरओ ने पंचायत सचिव गुड्डू प्रसाद को जेल जाने की चेतावनी देते हुए कहा कि अब तुम्हें कोई नहीं बचा सकता है।

From around the web