साहिबजादों के सम्मान में हर साल 26 दिसंबर को मनाया जायेगा 'वीर बाल दिवस': प्रधानमंत्री मोदी

 
न
नई दिल्ली,। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सिखों के दसवें गुरु गोबिंद सिंह के 355वें प्रकाश पर्व के मौके पर रविवार को घोषणा की कि उनके साहिबजादों की शहादत के सम्मान में हर साल 26 दिसंबर को ‘वीर बाल दिवस’ के रूप में मनाया जाएगा। इस्लाम कबूल नहीं करने पर इसी दिन जोरावर सिंह और फतेह सिंह को दीवार में जिंदा चुनवा दिया गया था।

प्रधानमंत्री मोदी ने सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा, “आज, श्री गुरु गोबिंद सिंह जी के प्रकाश पर्व के पावन अवसर पर, मुझे यह बताते हुए गर्व हो रहा है कि इस वर्ष से, 26 दिसंबर को ‘वीर बाल दिवस’ के रूप में मनाया जाएगा। यह साहिबजादों के साहस और न्याय की उनकी तलाश के लिए एक उचित श्रद्धांजलि है।”



उन्होंने कहा, “वीर बाल दिवस उसी दिन होगा जिस दिन साहिबजादा जोरावर सिंह जी और साहिबजादा फतेह सिंह जी को एक दीवार में जिंदा चुनवा दिया गया था। इन दोनों महानुभावों ने धर्म के महान सिद्धांतों से विचलित होने के बजाय मृत्यु को प्राथमिकता दी।”



प्रधानमंत्री ने कहा, “माता गुजरी, श्री गुरु गोबिंद सिंह जी और 4 साहिबजादों की वीरता और आदर्श लाखों लोगों को शक्ति देते हैं। वे अन्याय के आगे कभी नहीं झुके। उन्होंने एक ऐसी दुनिया की कल्पना की जो समावेशी और सामंजस्यपूर्ण हो। अधिक से अधिक लोगों को इनके बारे में जानना समय की मांग है।”

From around the web