मोदी से बोले योगी, आपके बताए गये ‘ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट’ के मंत्र से मिला बेहतर परिणाम

 
1

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से शिष्टाचार भेंट की। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री को बताया कि उनके द्वारा बताए गए ‘ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट’ के मंत्र से उप्र में बेहतर परिणाम मिले और कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने में सफलता मिली। 

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि कोविड-19 की फर्स्ट वेव में प्रधानमंत्री द्वारा बताए गये ‘ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट’ के मंत्र को राज्य सरकार ने दूसरी लहर के दौरान भी अपनाए रखा, जिसके बेहतर परिणाम प्राप्त हुए और संक्रमण को नियंत्रित करने में सफलता मिली। कोविड-19 की दूसरी लहर में जब ऑक्सीजन की मांग में अचानक वृद्धि हुई, उस समय रेल मंत्रालय द्वारा ऑक्सीजन एक्सप्रेस रेल के संचालन तथा भारतीय वायु सेना के विमानों द्वारा ऑक्सीजन टैंकर के परिवहन से प्रदेश में ऑक्सीजन की आपूर्ति करने में बड़ी मदद मिली। 

उन्होंने संकट की उस घड़ी में प्रदेश में ऑक्सीजन की सुचारु उपलब्धता के लिए प्रधानमंत्री मोदी के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि पीएम केयर्स फण्ड के माध्यम से प्रदेश के सभी जनपदों के लिए ऑक्सीजन प्लाण्ट की स्वीकृति से ऑक्सीजन उपलब्धता की स्थायी व्यवस्था करने में मदद मिलेगी।  

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री ने 18 वर्ष से अधिक सभी नागरिकों के लिए राज्यों को निशुल्क कोरोना वैक्सीन उपलब्ध कराने का अभिनन्दनीय निर्णय लिया। अनेक प्रदेश सरकारों को 18 से 44 वर्ष के युवाओं को वैक्सीन की व्यवस्था का अर्थ वहन करने में दिक्कत हो रही थी। उन्होंने राज्यों की इस समस्या का समाधान किये जाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी के प्रति आभार भी व्यक्त किया।  

योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा निर्धन कल्याण को समर्पित प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को इस वर्ष माह मई में पुनः प्रारम्भ किया गया। हर गरीब के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री जी ने इस योजना को दीपावली तक विस्तारित करने का निर्णय लिया, ताकि संकट के समय किसी भी गरीब को भूखा न सोना पड़े। प्रदेश सरकार प्रधानमंत्री जी की आकांक्षाओं के अनुरूप इस योजना को माह मई में संचालित करते हुए वर्तमान माह में भी क्रियान्वित कर रही है। राज्य के लगभग 15 करोड़ जरूरतमन्दों को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अन्तर्गत निःशुल्क खाद्यान्न प्राप्त हो रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में राज्य सरकार किसानों के कल्याण व उत्थान के लिए कृतसंकल्पित है। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में केन्द्र सरकार ने डीएपी खाद के लिए सब्सिडी में 140 प्रतिशत की वृद्धि की। उनकी अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमण्डल ने वर्ष 2021-22 के लिए खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृद्धि किये जाने से किसानों को उनकी उपज का लाभकारी मूल्य प्राप्त होगा और कृषि विविधीकरण को बढ़ावा मिलेगा।

उन्होंने कहा कि कोरोना कालखण्ड के दौरान किसानों को राहत प्रदान करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री जी ने देश के किसानों के बैंक खातों में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की आठवीं किस्त का अन्तरण किया। ट्रांसफर की गई धनराशि में से प्रदेश के 02 करोड़ 61 लाख से अधिक किसानों के खातों में 5,230 करोड़ से अधिक की धनराशि अन्तरित की गई। उन्होंने किसान हितैषी इन निर्णयों के लिए प्रधानमंत्री प्रति आभार व्यक्त किया।

From around the web