अफ्रीका के साहेल क्षेत्र में अपनी सैन्य उपस्थिति में बदलाव करेगा फ्रांस: मैक्रों

 
1
पेरिस। फ्रांस ने अफ्रीका के साहेल क्षेत्र में अपनी सैन्य उपस्थिति के मॉडल को परिवर्तित करने की योजना बनाई है, जिससे वर्तमान में चल रहे आतंकवादी निरोधक अभियान ‘ऑपरेशन बरखाने’ का अंत हो जायेगा।

फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन ने गुरुवार को यह घोषणा की। उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “अपने सहयोगियों, विशेष रूप से अमेरिका और यूरोपीय देशों के साथ परामर्श के बाद हम साहेल में अपनी सैन्य उपस्थिति में व्यापक परिवर्तन शुरू करेंगे।”

उन्होंने कहा कि आने वाले हफ्तों में इस संबंध में और विवरण की घोषणा की जायेगी।

मैक्रों ने कहा, “इस परिवर्तन में मॉडल में बदलाव शामिल होगा। इसके तहत ढांचे का परिवर्तन किया जायेगा, यानी ऑपरेशन बरखाने का अंत हो जायेगा।” इस ऑपरेशन को एक अंतरराष्ट्रीय गठबंधन द्वारा प्रतिस्थापित किया जाएगा जिसमें क्षेत्रीय साझेदार शामिल होंगे।

साहेल क्षेत्र आतंकवादी गतिविधियों और अवैध प्रवासन का गढ़ है। फ्रांस ने क्षेत्र में स्थिति को स्थिर करने और स्थानीय अधिकारियों को सुरक्षा व्यवस्था कायम करने में मदद करने के लिए 2014 में अपना आतंकवाद निरोधक अभियान शुरू किया।
 

From around the web