पाकिस्तान में महिला-पुरुष शिक्षकों के जींस और टी-शर्ट पहनने पर प्रतिबंध

 
बी
इस्लामाबाद । पाकिस्तान में महिला-पुरुष शिक्षकों के जींस और टी-शर्ट पहनने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। केंद्रीय शिक्षा निदेशालय (एफडीई) ने हाल में स्कूल-कालेजों के प्राचार्यों को पत्र लिखकर यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिये हैं कि उनके यहां शिक्षण और गैर-शिक्षण कर्मचारी ड्रेस कोड का पालन करने के साथ ही व्यक्तिगत स्वच्छता बनाये रखें।
ड्रेस कोड की व्याख्या करते हुए पत्र में कहा गया है कि सभी कर्मचारी संस्थानों, परिसरों और आधिकारिक समारोहों, समारोहों और बैठकों के दौरान औपचारिक ड्रेस कोड का पालन करेंगे। पत्र में अनुशंसा की गयी है कि सभी शिक्षण कर्मचारियों को कक्षाओं में पढ़ाने के दौरान शिक्षण गाउन और प्रयोगशालाओं में प्रायोगिक कार्य के समय प्रयोगशाला कोट पहनना चाहिए।
पत्र में महिलाओं के लिए एक औपचारिक पोशाक की सिफारिश की गयी है , जिसमें सलवार कमीज (पारंपरिक पोशाक), पतलून, दुपट्टा / शॉल के साथ शर्ट शामिल है जबकि पर्दानशीं महिलाओं को स्कार्फ / हिजाब पहनने की अनुमति है। वहीं शिक्षण के दौरान लंबे समय तक चलने के कारण स्नीकर्स और सैंडल जैसे आरामदायक जूते पहने जा सकते हैं। लेकिन चप्पल पहनने की बिल्कुल भी अनुमति नहीं होगी। सर्दियों के मौसम के दौरान, कोट, ब्लेजर के साथ-साथ स्वेटर, जर्सी, कार्डिगन और शॉल की अनुमति है। पुरुष कर्मचारियों के लिए मौसम की स्थिति के अनुरुप वास्कट के साथ सलवार कमीज , टाई के साथ पूरी बाजू वाली शर्ट और पतलून का ड्रेस कोड तय किया गया है। जींस पहनने की बिलकुल मनाही है और गर्मी के दिनों में आधी बाजू की शर्ट या बुश शर्ट भी पहनी जा सकती है , लेकिन सभी प्रकार की टी-शर्ट की अनुमति नहीं है।

From around the web