ब्‍लड शुगर लेवल को नियंत्रित करनें में मददगार होंगी ये ड्रिंक्‍स 
 

 

आज के समय में आरामदायक जीवनशैली, तनाव और गलत खानपान के कारण ज्यादातर लोग डायबिटीज की बीमारी से ग्रसित हैं। देश में डायबिटीज के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। मधुमेह के मरीजों के लिए अपना शुगर लेवल नियंत्रित रखना काफी आवश्यक होता है। क्योंकि ब्लड में शुगर (Blood sugar) की मात्रा बढ़ जाने के कारण कई तरह की खतरनाक बीमारियां हो सकती हैं। बता दें, जब शरीर में पर्याप्त मात्रा में इंसुलिन (Insulin) नहीं बन पाता, तो रक्त शर्करा की मात्रा बढ़ जाती है।

शरीर में ब्लड शुगर लेवल के बढ़ जाने से कई तरह की गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। जैसे- तनाव, थकान, लगातार पेशाब आना, सिरदर्द, आंखों की रोशनी धुंधली होना, ध्यान केंद्रित ना कर पाना, बार-बार प्यास लगना और वजन घटना आदि। हालांकि, खानपान में बदलाव डायबिटीज के इस खतरे को कम कर सकता है। सही भोजन खाने के अलावा, आपको ऐसे ड्रिंक्स भी पीने चाहिए जो रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में मदद कर सकते हैं।

-करेले का जूस: 
डायबिटीज के मरीजों के लिए करेले का जूस (Bitter gourd juice) काफी फायदेमंद होता है। यह शरीर में ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद करता है। करेले का जूस इंसुलिन को सक्रिया बनाता है। जो शुगर को फैट में नहीं बदलता और पर्याप्त मात्रा में इसका इस्तेमाल करता है। वहीं, करेले के जूस से वजन घटाने में भी मदद मिलती है। करेले (Bitter gourd) में मौजूद चारेंटिन को ब्लड ग्लूकोज लोवरिंग एजेंट (Glucose lowering agent) भी कहा जाता है। रोजाना सुबह नियमित तौर पर करेले के जूस का सेवन करना फायदेमंद साबित हो सकता है।

-मेथी का पानी: 
मेथी (Fenugreek) में कई तरह के पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो टाइप-2 डायबिटीज को कंट्रोल करने में मददगार हैं। एक स्टडी के मुताबिक हर रोज 10 ग्राम मेथी को गर्म पानी में भिगोकर सेवन करने से टाइप-2 डायबिटीज को कंट्रोल किया जा सकता है। मेथी दाना शरीर में ब्लड शुगर लेवल को कम करने में मदद करता है। इसमें मौजूद फाइबर पाचन प्रक्रिया (Digestive process) को धीमा करने में मदद करता है।

-ग्रीन टी:
 ग्रीन टी (Green tea) स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक होती है। यह शरीर में ब्लड शुगर लेवल को कम करने में मदद करती है। साथ ही यह वजन को भी घटाने में कारगर है। ऐसे में डायबिटीज (Diabetes) के मरीजों को नियमित तौर पर ग्रीन टी का सेवन करना चाहिए।

नोट - उपरोक्‍त दी गई जानकारी व सुझाव सामान्‍यज जानकारी के लिए हैं इन्‍हें किसी प्रोफेशनल डॉक्‍टर की सलाह के रूप में न समझें कोई भी बीमारी या परेंशानी हो तो डॉक्‍टर की सलाह जरूर लें ।

From around the web