आज का इतिहास- 21 नवंबर

 
स
नयी दिल्ली। भारतीय एवं विश्व इतिहास में 21 नवंबर की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार हैं:
1517 : दिल्ली के शासक सिकंदर लोधी द्वितीय का निधन।
1872 : कवि और स्वतंत्रता सेनानी केसरी सिंह बारहट का जन्म।
1877 : प्रसिद्ध वैज्ञानिक थॉमस अल्वा एडिसन ने विश्व के सामने पहला फोनोग्राफ पेश किया।
1906 : चीन ने अफीम के व्यापार पर रोक लगाई।
1916 : परमवीर चक्र सम्मानित भारतीय सैनिक नायक यदुनाथ सिंह का जन्म।
1921 : प्रिंस ऑफ वेल्स जो बाद में :किंग एडवर्ड अष्टम कहलाए बम्बई पहुंचे और इंडियन नेशनल कांग्रेस ने देशभर में हड़ताल की।
1931 : हिन्दी के प्रमुख यशस्वी कथाकार ज्ञानरंजन का जन्म।
1939 : समाजवादी पार्टी के संस्थापक और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव का जन्म।
1941 : गुजरात की पहली महिला मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल का जन्म।
1947 : स्वतंत्रता के बाद साढे तीन आने कीमत का प्रथम भारतीय डाक टिकट ‘जय हिन्द’ जारी किया गया।
1962 : भारत-चीन सीमा विवाद में चीन ने संघर्षविराम की घोषणा की।
1963 : केरल के थुंबा क्षेत्र से पहला रॉकेट छोड़े जाने के साथ ही भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम की शुरुआत।
1970 : भारतीय भौतिक विज्ञानी सी वी रमन का निधन।
1986 : मध्य अफ़्रीकी गणराज्य ने संविधान अपनाया।
1999 : चीन द्वारा अपने प्रथम मानव रहित अंतरिक्ष यान ‘शेनझू’ का प्रक्षेपण किया गया।
2001 : संयुक्त राष्ट्र ने अफगानिस्तान में अंतरिम प्रशासन के गठन का प्रस्ताव रखा।
2002 : मुस्लिम लीग (कायदे आजम) के नेता जफरउल्ला ख़ान जमाली पाकिस्तान के प्रधानमंत्री निर्वाचित हुए।
2002 : बुल्गारिया, इस्टोनिया, लातविया, लिथुआनिया ,रोमानिया,स्लोवाकिया और स्लोवेनिया को नाटो ने संगठन का सदस्य बनने का निमंंत्रण दिया।
2005 : रत्नासिरी विक्रमनायके दूसरी बार श्रीलंका के प्रधानमंत्री बने।
2006 : भारत और चीन ने नागरिक परमाणु ऊर्जा के क्षेत्र में साझा सहयोग बढ़ाने का फैसला किया।
2007 : पैप्सिको की चैयरमैन इंदिरा नूई को अमेरिकी इंडियन बिजनेस काउंसिल के निदेशक मंडल में शामिल किया गया।
2008 : राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने पंजाब और हरियाणा में दो नये जजों जस्टिस राकेश कुमार गर्ग और राकेश कुमार जैन को नियुक्त किया।
2019 : महिन्दा राजपक्षे ने तीसरी बार श्रीलंका के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली।
2019 : स्वीडन की 16 साल की पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग जलवायु परिवर्तन के खिलाफ संघर्ष के लिए अंतरराष्ट्रीय बाल शांति पुरस्कार से सम्मानित।

From around the web