चटपटे चुटकुले

 
चटपटे चुटकुले
एक आदमी रात को एक गली के सामने खड़ा था।
कौन हो? वहां से गुजरते हुए चौकीदार ने कड़ककर पूछा।
शेर सिंह।
बाप का नाम?
शमशेर सिंह।
कहां रहते हो?
शेरों वाली गली में,
यहां क्यों खड़े हो?
कैसे जाऊं कुत्ता भौंक रहा है।

एक बच्चा तालाब में डूब रहा था। सभी देख रहे थे। किसी में हिम्मत न थी कि बच्चे को बचा लायें। तभी एक साहब ने छलांग लगा दी और बच्चे को बचा लिया। दर्शकों में से एक बोला-बड़ी हिम्मत की आपने।
वह व्यक्ति बोला-हिम्मत की ऐसी-तैसी, पहले यह बताओ, मुझे धक्का किसने दिया था?

कवि (पत्नी से): तुम्हें पता होना चाहिए कि मैं वीर रस का कवि हूं और लोग मेरे बारे में कहते हैं कि मैं अपनी कविताओं से संसार में आग लगा सकता हूं।
पत्नी, अब अपनी प्रशंसा करना बंद करें और प्लीज जरा चूल्हे में आग जला दें।

From around the web