चटपटे चुटकुले

 
न
शक्ल-सूरत से एकदम भोली दिखती एक जवान लड़की डाक्टर के सामने बैठी हुई थी। डाक्टर ने उसका शारीरिक परीक्षण करने के बाद कहा-मेरा ख्याल है कि तुम्हारे बच्चा होने वाला है। क्षण भर रूककर वह बोला, और यह सम्भव है कि तुम्हारे जुड़वा बच्चे हों।
लेकिन डाक्टर साहब यह कैसे हो सकता है? लड़की ने चकित स्वर में कहा-मैं अपने जीवन एक बार में कभी दो से नहीं मिली हूं।

घरवाली जरा खीझते हुए अपने पति से बोली, घर में जवान बेटी बैठी है और तुम्हें कोई चिंता नहीं। हाथ पर हाथ धरे बैठे रहते हो। कुछ भागदौड करो।
पति ने एक गहरी सांस लेते हुए कहा- भागवान, कोई सही-सा लड़का मिले तो बात आगे...
तड़ से घरवाली बीच में ही बात काटते हुए हाथ घुमाकर बोली, सोचो, अगर मेरे पिताजी भी सही लड़के की खोज करते, तो फिर तुम्हारा क्या होता?

पति ने चिड़चिड़े लहजे में कहा- इस वक्त मुझे तंग मत करो, मेरे दिमाग में आग लगी है।
ओह, पत्नी बोली, तभी तो मैं सोच रही थी कि चमड़ा जलने की बदबू कहां से आ रही है।

From around the web