चटपटे चुटकुले

 
न
एक नवाब साहिब के दो ही शौक थे। नई से नई शादी करना और बच्चे पैदा करने की कोशिश करना। एक-एक करके उनकी तीन बीवियां स्वर्गवास हो गई। जब उन्होंने चौथी शादी की तो बीवी को एक अलमारी दिखाकर बोले, ये कीमती साडिय़ां जुबैदा बेगम की हैं, बेचारी पहले बच्चे को जन्म देते समय अल्लाह को प्यारी हो गई। ये दूसरी अलमारी में पड़े महंगे शनील के सूट नसीमा बेगम के हैं, बेचारी बच्चे के अबॉर्शन की वजह से मर गई। ये तीसरी अलमारी में पड़े शानदार गहने और सूट वहीदा बेगम के हैं, बेचारी जुड़वा बच्चों को जन्म देते हुए दम तोड़ गई और अब इस चौथी खाली पड़ी अलमारी में तुम्हारे कपड़े टंगेंगे।
बीवी चालाक थी और 'बर्थ कंट्रोल' के बारे में सब जानती थी, वह बोली, फिक्र न करें सरताज, इस अलमारी में आपकी शेरवानी और पजामा टंगेगा।

मिल मालिक: मैं तुम्हारे काम से खुश हूं। अगले महीने से तुमको मैनेजर बना रहा हूं, तुम्हारी तनख्वाह भी दोगुनी हो जायेगी।
कर्मचारी (गिड़गिड़ाकर): नहीं जनाब, मुझ पर यह जुल्म न करें, मुझे खजांची ही बना रहने दें।

From around the web