चटपटे चुटकुले

 
न
दो अमीर गप्पी रास्ते में मिले।
पहला बोला: राय सहाब कैसे हो?
दूसरा: यूं ही कुछ जुकाम हो गया था।
पहला: हाय कैसे?
दूसरा: मूली के पत्ते पर पैर पड़ गया था।
पहला: हाय, कैसे जाहिल लोग हैं जो मूली के पत्ते जैसी ठंडी चीज खुले में डाल देते हैं। मुझे तो सुनकर ही.... आक छी....।

शिक्षक: सावधानी और कायरता के बीच क्या फर्क है।
राजू: जब हम डर जाते हैं तो उसे सावधानी कहा जाता है, जब सामने वाला डर जाता है तो उसे कायरता कहते हैं।

डॉक्टर (लड़के से): किसके लिए चश्मा बनवाना चाहते हो।
लड़का (डाक्टर से): जी मास्टरजी के लिए।
डॉक्टर: क्यों।
लड़का: उन्हें मैं गधा दिखाई देता हूं।

मां (बेटे से): जो बच्चे रोज स्कूल जाते हैं वे अच्छे आदमी बनते हैं।
बेटा: मगर मास्टर जी मुझे रोज मुर्गा बना देते हैं।

From around the web