वरुण गांधी रोज खोल रहे है अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा !

 
न
लखीमपुर खीरी जिले के तिकुनिया में तीन अक्तूबर को हुई हिंसा के बाद से भाजपा सांसद वरुण गांधी लगातार सरकार को निशाना बना रहे हैं। लखीमपुर हिंसा के बाद वरुण ने एक वीडियो शेयर कर दोषियों को सजा दिलाने की मांग की थी। साथ ही इस मुद्दे पर योगी सरकार को पत्र लिखा था। इससे पहले भी गन्ने के मुद्दे पर उन्होंने सीएम योगी को चिट्ठी लिखी थी। अब  फिर से वरुण गांधी ने ट्वीट कर अपनी ही सरकार पर निशाना साधा है। भाजपा सांसद वरुण गांधी लगातार लखीमपुर हिंसा को लेकर योगी सरकार पर हमला बोल रहे  है। उन्होंने ट्वीट कर  लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा को हिंदू बनाम सिख की लड़ाई में बदलने की कोशिश की खुलकर आलोचना की है। वरुण की इस आलोचना से बीजेपी असहज है और वरुण और उनकी माता मेनका गांधी को बीजेपी ने राष्ट्रीय कार्यसमिति से बाहर कर दिया है। आने वाले समय में वरुण के कदम पर अब सबकी नज़र है। 

कार्रवाई की तैयारी
जम्मू-कश्मीर में कश्मीर में सिलेक्टिव किलिंग करने वाले आतंकियों पर बड़ी और कड़ी कार्रवाई की तैयारी चल रही है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने प्रदेश सरकार से इस नई चुनौती से निपटने पर चर्चा की है। सूत्रों का कहना है कि सुरक्षा एजेंसियों और खुफिया एजेंसियों से कश्मीर में सक्रिय आतंकियों का ब्यौरा  मांगा गया है। इन आतंकियों की मदद करने वालों की धरपकड़ भी होगी। कश्मीर में मौजूद कुछ आतंकी युवाओं से पहले सिलेक्टिव किलिंग करवाकर फिर उनको अपने संगठन में शामिल कर रहे हैं। गृह मंत्रालय आतंकियों की इस नई चाल का तोड़ निकालने के लिए मंथन कर रहा है।

बर्फबारी में भी दौड़ेंगी गाडिय़ां
केंद्र सरकार पाकिस्तान-चीन सीमा तक सड़क संपर्क सुदृढ़ करने के लिए लद्दाख क्षेत्र में तीन नई टनल बनाने जा रही है। इनके निर्माण से जीवन रेखा माने जाने वाला जम्मू-कश्मीर-लद्दाख हाईवे संख्या-1 पर यातायात सुगम व तेज होगा। टनलों के बनने से बर्फबारी में वाहन दौड़ते रहेंगे। सर्दियों में यह क्षेत्र छह माह के लिए कट जाता है। चीन से चल रहे तनाव को देखते हुए सामरिक दृष्टि से यह परियोजना काफी महत्वपूर्ण मानी जा रही है। वहीं पर्यटन बढऩे से स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा और व्यापार में भी बढोतरी होगी। सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय के सार्वजनिक उपक्रम ने पिछले महीने तीनों टनल की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) व निर्माण से पूर्व की गतिविधियों को लेकर तकनीकी कंसल्टेंट नियुक्त करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

From around the web