कहीं जाने से पहले ध्यान रखें

 
न
हम प्राय: कहीं जाने पर छोटी-छोटी लेकिन महत्त्वपूर्ण बातों को भी नजरअंदाज कर देते हैं जिसका परिणाम लौटने पर प्राप्त होता है। यह परिणाम कभी-कभी घातक भी होता है और ढेर सारी समस्याओं को आमंत्रित करने वाला भी।
वे बातें कौन सी हैं, इसकी जानकारी प्राप्त कर लेना आपके लिए जरूरी है। कहीं जाने से पूर्व अगर आप इन छोटी-छोटी बातों को ध्यान में रखकर अमल में लायें तो निश्चित रूप से आपके घर की स्थिति पूर्ववत रहेगी और लौटने पर आपका मन भी शान्त और प्रसन्न रहेगा। तो आइए, उन महत्वपूर्ण बातों की जानकारी प्राप्त कर लें।
सर्वप्रथम, कहीं जाने से पूर्व आप बिजली का मेनस्विच इत्यादि अच्छी तरह से तरह से बंद कर दें ताकि आपकी अनुपस्थिति में किसी कारणवश कोई दुर्घटना न हो जाये। प्राय: देखा जाता है कि कुछ लोग कहीं जाने पर बिजली का मेनस्विच तो बंद करते ही नहीं हैं, साथ ही घर की बत्तियां भी जली छोड़ देते हैं। इससे बिजली की बरबादी तो होती ही है, साथ ही बल्ब के फ्यूज होने का खतरा बना रहता है। इसलिए कहीं जाने पर बत्तियां न ही जलायें तो अच्छा रहेगा।
अगर आपके पास फ्रिज हो तो उससे इलेक्ट्रिक कनेक्शन बिल्कुल अलग कर दें। फ्रिज में मिठाइयां, सब्जियां, पकवान, फल या किसी भी प्रकार का पेय पदार्थ नहीं रखें। रखने पर ये सब खराब तो होंगे ही, साथ ही, फ्रिज के भी खराब होने का डर रहता है।
नल की टोंटी को अच्छी तरह से बंद कर दें। नल बंद भी हो तो एक बार अवश्य देख लें। टंकी में पानी इकटठा हो तो उसे पूरा गिरा कर टंकी खाली कर दें ताकि लौटने पर भूल से उस पानी को पीने से स्वास्थ्य खराब न हो जाये।
आजकल ईंधन के लिए हर घर में गैस का उपयोग होने लगा है। इसलिए घर से कुछ दिनों के लिए बाहर जाने से पहले गैस सिलेण्डर का स्विच ऑफ कर दें। चूल्हे का स्विच भी बंद करना न भूलें। बेशक, आप सिलेण्डर को पाइप से अलग कर बंद कर दें तो अच्छा रहेगा। इससे किसी भी प्रकार की दुर्घटना नहीं हो सकेगी।
घर में जूठे बर्तन न रख छोड़ें। इससे बर्तन तो खराब होंगे ही, साथ ही इसकी दुर्गन्ध से तरह तरह की बीमारियों के कीटाणु भी घर में पधार कर रोगों को आमंत्रित कर सकते हैं। इससे घर के खर्चो में अनावश्यक वृद्धि हो सकती है इसलिए इस मामले में विशेष सावधानी बरतें। किसी भी बर्तन में पानी न रख छोड़ें।
घर में अचार इत्यादि हो तो उसे लम्बी अवधि पर जाने से पूर्व धूप में अवश्य रखें। बरसात के दिनों में, ऐसा अवश्य करना चाहिए नहीं तो अचार खराब होने की शत प्रतिशत संभावना रहती है।
घर में अगर आप कीटनाशक दवाईयां छिड़क दें तो मच्छर, खटमल, तिलचट्टा या चूहों का मेला नहीं लग सकेगा।
अगर आपके घर में या आसपास चूहे अधिक संख्या में मौजूद हों तो घर के सामान को सुरक्षित रखने के लिए खिड़की और दरवाजा बंद करते समय थोड़ा सा भी छेद रहने पर अच्छी तरह से बंद कर दें ताकि चूहे अन्दर न आ सकें। रोशनदान का छेद बड़ा हो तो उसे भी छोटा कर दें। नाली के पास भी ईंट रख के जाम कर दें।
दवाई की शीशी, चीनी और गुड़ के बर्तन को अच्छी तरह से बंद करके ऐसी जगह पर रखें कि चींटी को उसकी भनक भी न मिले और ये सब चीजें सुरक्षित रहें।
कहीं भी जाने से पहले घर की सफाई अवश्य कर लें क्योंकि हो सकता है कि लौटने पर आपके साथ ही कोई विशिष्ट मेहमान आ जाये और आपके घर की स्थिति और गंदगी को देखकर नाक-भौं सिकोड़कर आपकी असभ्यता पर हंसे।
बागान में फूल, पौधे व सब्जियां लगे हुए हों तो उन्हें उचित रूप से सींच दे तथा गेट अच्छी तरह से बंद कर दें ताकि गाय, बैल तो क्या कुत्ते, बकरी भी अन्दर न आ सकें।
जाने से पहले खिड़की और दरवाजे अच्छी तरह बंद हैं या  नहीं, की जांच करना न भूलें।
अब आप कहीं से लौटेंगे तो अपना घर सुरक्षित पायेंगे। तब होंठों पर मुस्कान बिखेरकर आप कोई गीत गुनगुनायेंगे।
- सुधीर कुमार सिन्हा

From around the web