मुजफ्फरनगर में कोरोना की तीसरी लहर में हुई पहली मौत, हडकम्प मचा, मिले 310 कोरोना पॉजिटिव

 
व

मुजफ्फरनगर। जनपद में कोरोना संक्रमण ने विकराल रूप धारण कर लिया है। अभी तक कोरोना संक्रमितों की संख्या ही लगातार बढ रही थी, लेकिन आज कोरोना की तीसरी लहर में एक संक्रमित मरीज की मौत होने से हडकम्प मच गया।
जनपद में कोरोना की तीसरी लहर में आज पहली मौत हुई है और अब मृतकों की टोटल संख्या 270 पर पहुंच गई है। कोरोना संक्रमण को लेकर जिला प्रशासन के सभी प्रयास विफल हो रहे है और आम जनमानस भी सर्तकता नहीं बरत रहा है। कोरोना संक्रमण की रफ्तार जिले में इतनी तेजी से बढी है और आज एक ही दिन में 310 कोरोना मरीज मिले हैं और अब टोटल संख्या 1711 पर पहुंच गई है, जिससे कोरोना की पाबंदियां भी जिला प्रशासन ने बढा दी है।
मुजफ्फरनगर में दोबारा से वापसी कर रहा कोरोना का संक्रमण अपनी रफ्तार को कम करता हुआ दिखाई नहीं दे रहा है। आज एक बार फिर से तिहरा  शतक मारते हुए कोरोना ने 310 लोगों को संक्रमित कर दिया है, जिसके चलते जनपद में कुल एक्टिव केसों की संख्या 1711 हो गई है। जनपद में एक बार फिर से भारी संख्या में लोग कोरोना से संक्रमित मिले हैं। जिले भर के विभिन्न कोविड-19 सेंटरों पर जाते हुए नागरिकों द्वारा कराई गई जांच में 310 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।
जनपद में अब कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या 1711 हो गई है। सीएमओ ने बताया कि अब कोरोना टेस्टिंग में तेजी लाई जा रही है। होम आईसोलेशन में जिन मरीजों को रखा गया है, उनकी स्थिति में सुधार न होने पर कोविड अस्पताल में दाखिल भी कराया जायेगा। उन्होंने लोगों से मास्क लगाने की अपील भी की है, लेकिन फिर भी लापरवाही बरती जा रही है। इसके अलावा भीडभाड से बचने व बेवजह बाजार में जाने से भी बचने की सलाह दी गई है। जिले में सबसे बडी चिंता की बात यह है कि कुल संक्रमितों में से 19 केस ऐसे है, जिनकी आयु पांच वर्ष से कम हैं, जिससे पता चलता है कि कोरोना छोटे बच्चों में भी फैल गया है, जिस पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है और विशेष सावधानी बरती जाये। आज चार बच्चे पांच वर्ष से कर्म आयु के कोरोना संक्रमित  मिले है, जिस पर टोटल संख्या 19 हो गई है। कोरोना को लेकर केवल वे ही व्यक्ति गंभीर है, जिनके परिवार में कोई संक्रमित पाया जा रहा है, बाकी मास्क लगाने और भीड से बचने में पूरी लापरवाही बरती जा रही है।

From around the web