मुजफ्फरनगर में अवैध कॉलोनियों पर गरजा एमडीए का बुलडोजर, कई कॉलोनी की ध्वस्त 

 
e3rwtgh

मुजफ्फरनगर। मुज़फ्फरनगर विकास प्राधिकरण ने आज शहर के बाईपास पर बनाई जा रही अवैध कॉलोनियों पर बड़ी कार्यवाही करते हुए 10 कॉलोनियों को ध्वस्त किया।

एमडीए सचिव आदित्य प्रजापति ने जानकारी देते हुए बताया कि रामपुर तिराहा स्थित यह 70-80 बीघा जमीन है। जिस पर 3 साइट चल रही है और जिसकी कीमत करीब 50 करोड़ है। सभी अवैध कॉलोनी  बिना नक्शे और लेआउट के बनाई जा रही थी। इन सभी अवैध कॉलोनियों को नोटिस जारी किया गया था। इसके बाद धवस्तीकरण के आदेश पारित हुए। उसी के तहत कार्यवाही की गई है।
आपको बता दें कि जनपद मुजफ्फरनगर के बाईपास पर भूमाफिया लगातार खेती की जमीन को कब्जा रहे है। बाईपास के चारों ओर खेती की जमीन पर प्लॉटिंग कर मोटी रकम कमाने में लगे हुए हैं। भू माफिया एमडीए के द्वारा जारी गाइडलाइंस को ताक पर रख कर अवैध निर्माण कर रहे हैं।

एमडीए सचिव आदित्य प्रजापति ने जानकारी देते हुए बताया कि यह ध्वस्तीकरण की कार्यवाही देर शाम तक चली।  उन्होंने बातया कि जनपद में अवैध कालोनियों पर जमकर ध्वस्तीकरण अभियान चलाया ज़ा रहा है सबसे पहले मंडी में लगभग 10 बीघा की अवैध कॉलोनी को ध्वस्त किया, उसके बाद एनएच 58 पर रामपुर तिराहे पर हरियाणा होटल के दोनों तरफ काटी जा रही लगभग 80 बीघा की अवैध कॉलोनी को पूरी तरह से ध्वस्त कर दिया। उसके बाद विकास प्राधिकरण की टीम सिलाजुड्डी गांव पहुंची। वहां भी लगभग 10 बीघा भूमि पर बनाई जा रही अवैध कॉलोनी को ध्वस्त किया है। जिनकी कीमत करीब 50 करोड़ रु है।

एमडीए सचिव आदित्य प्रजापति ने जानकारी देते हुए बताया कि यह सभी कॉलोनियों बिना नक्शे व बिना लेआउट पास कराए बनाए जा रही है। इनको पूर्व में नोटिस भी जारी किया गया था लेकिन इनकी ओर से कोई जवाब प्राधिकरण में दाखिल नहीं किया गया, इसके पश्चात आज इन 8-10 कॉलोनियों के खिलाफ प्राधिकरण प्रवर्तन दल और तहसीलदार सदर की उपस्थिति मे धवस्तीकरण की कार्यवाही की जा रही है।

From around the web