माननीयों के संरक्षण में फल फूल रहे दबंग, दबंगई से पीड़ित परिवार ने गांव से किया पलायन

 
माननीयों के संरक्षण में फल फूल रहे दबंग, दबंगई से पीड़ित परिवार ने गांव से किया पलायन

मुजफ्फरनगर। गांव हजूरनगर में माननीयों की शह पर पनप रहे दबंग लोगों द्वारा गरीब एवं मजदूर लोगों पर रौब गालिब करने के लिए अवैध तमंचा से लैस होकर गांव की गलियों में घूम कर बेवजह लोगों से झाडड़ने का मामला आज भी चल रहा है, जिसका शिकार हुए हजूरनगर निवासी लताफत अली अपने रिहायशी मकान एवं कृषि भूमि को छोड़कर पलायन करने के लिए मजबूर हो गया और 5 माह पूर्व जनपद के कस्बा शाहपुर क्षेत्र के गांव हजूरनगर से पलायन कर दूसरे प्रदेश में रहने लग गया है।

मीडिया सेंटर पर पीड़ित लताफत अली ने अपने परिवार सहित पत्रकारों को अपना दुखड़ा सुनाते हुए प्रदेश सरकार से न्याय की गुहार लगाई है। पीड़ित लताफत अली ने बताया कि गांव में प्रधानपति रहमत अली द्वारा लोगों के साथ बेवजह मारपीट करना एवं अवैध रूप से जमीन पर कब्जा करना आम हो गया है। उन्होंने बताया कि गांव हजूरनगर की मौजूदा प्रधानपति रहमत अली द्वारा गांव में दबंगता एवं रोब गालिब करते हुए ग्राम पंचायत चुनाव में जबरदस्ती वोट अपनी पत्नी को देने के लिए मजबूर किया गया।

उन्होंने बताया कि दबंग प्रधान पति रहमत अली गैंगस्टर एवं टॉप टेन हिस्ट्रीशीटर एवं जिलाबदर भी है, जिसकी हिस्ट्रीशीट थाना शाहपुर पर खुली हुई है। आरोप है कि पीड़ित गत 15 नवंबर की शाम करीब पांच बजे गांव में खाली पड़े मकान की देख-रेख करने के लिए आया था। आरोप हैं कि जिस वक्त पीड़ित गांव के ही उमर मौहम्मद पुत्र शेर मौहम्मद के पास उसके मकान पर बैठा हुआ था, तभी दबंग रहमत व उसकी पत्नी मेहरून्निसा आये तथा पीड़ित के साथ जान से मारने की नियत से गाली देते हुये मारपीट शुरू कर दी।
 

पीड़ित ने जिला प्रशासन से सुरक्षा की गुहार लगाते हुए कहा कि दबंग प्रधान पति रहमत एवं मौजूदा प्रधान मेहरून्निसा जान माल एवं परिवार के किसी भी सदस्य के साथ अनहोनी होने पर जिम्मेदार रहमत पुत्र उम्मेद अली व मेहरून्निसा, आस मौहम्मद व जैद मौहम्मद पुत्रगण रहमत एवं सत्तार पुत्र कालू, आकिल पुत्र अब्दुल समस्त निवासीगण ग्राम हजूरनगर होंगे।

प्रेस वार्ता में इस दौरान सलमान त्यागी, मोहम्मद उमर, फरमान त्यागी, संजीदा आदि लोग उपस्थित रहे।      

From around the web