गन्ना तौल केंद्र पर घटतौली को लेकर किसानों का हंगामा

 
मोरना। गन्ना तौल केंद्र पर हो रही गन्ने की घटतौली के चलते किसानों ने मिल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाते हुए जोरदार हंगामा किया। किसानों ने आरोप लगाया कि काफी समय से केंद्र पर घटतौली कर किसानों को चुना लगाया जा रहा है, जब किसानों ने अधिकारियों से बात की, तो संतोषजनक जवाब न मिलने के कारण गुस्साएं किसानों ने गन्ना तौल केंद्र पर हंगामा किया। भोपा थाना क्षेत्र में शुकतीर्थ स्थित खाईखेड़ी मिल का गन्ना सेंटर लगा हुआ है। रविवार को शुकतीर्थ निवासी राजकुमार पुत्र विनय सिंह अपनी बुग्गी से गन्ना तुलवाने के लिए तौल सेंटर पर पहुंचे, तो उन्हें तौल सेंटर के कांटे पर कम तौलने को लेकर शक हुआ, जिसके बाद किसान अपना गन्ना लेकर धर्म कांटे पहुंचा। धर्म कांटे व तौल सेंटर के कांटे में एक कुंटल 35 किलो का फर्क आया, जब घटतौली के बारे में किसान ने अन्य किसानों को बताया, तो किसानों में आक्रोश फैल गया। किसानों ने मिल प्रबंधन पर घटतौली का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। किसानों ने तौल बाबू पर घटतौली का आरोप लगाते हुए किसान राजकुमार ने बताया कि एक गन्ना बुग्गी पर किसानों को कम से कम 45० रुपए का नुकसान हो रहा है। किसान संदीप गुर्जर ने मिल प्रबंधन पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि किसान कड़ी मेहनत से अपनी फसल उगाता है, लेकिन मिल अधिकारी सांठगांठ कर किसानों की कड़ी मेहनत का पैसा घटतौली कर डकार रहे हैं, अगर तौल सेंटर पर घटतौली बंद नहीं की जाती है, तो किसान आंदोलन करने को मजबूर होंगे, जिसकी जिम्मेदारी मिल प्रबंधन की होगी। हंगामे के दौरान सुशील कुमार, सोनू, सुंदर, सुबोध, जोगिंद्र आदि दर्जनों किसान मौजूद रहे।

मोरना। गन्ना तौल केंद्र पर हो रही गन्ने की घटतौली के चलते किसानों ने मिल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाते हुए जोरदार हंगामा किया। किसानों ने आरोप लगाया कि काफी समय से केंद्र पर घटतौली कर किसानों को चुना लगाया जा रहा है, जब किसानों ने अधिकारियों से बात की, तो संतोषजनक जवाब न मिलने के कारण गुस्साएं किसानों ने गन्ना तौल केंद्र पर हंगामा किया।

भोपा थाना क्षेत्र में शुकतीर्थ स्थित खाईखेड़ी मिल का गन्ना सेंटर लगा हुआ है। रविवार को शुकतीर्थ निवासी राजकुमार पुत्र विनय सिंह अपनी बुग्गी से गन्ना तुलवाने के लिए तौल सेंटर पर पहुंचे, तो उन्हें तौल सेंटर के कांटे पर कम तौलने को लेकर शक हुआ, जिसके बाद किसान अपना गन्ना लेकर धर्म कांटे पहुंचा। धर्म कांटे व तौल सेंटर के कांटे में एक कुंटल 35 किलो का फर्क आया, जब घटतौली के बारे में किसान ने अन्य किसानों को बताया, तो किसानों में आक्रोश फैल गया। किसानों ने मिल प्रबंधन पर घटतौली का आरोप लगाते हुए हंगामा किया।

किसानों ने तौल बाबू पर घटतौली का आरोप लगाते हुए किसान राजकुमार ने बताया कि एक गन्ना बुग्गी पर किसानों को कम से कम 450 रुपए का नुकसान हो रहा है। किसान संदीप गुर्जर ने मिल प्रबंधन पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि किसान कड़ी मेहनत से अपनी फसल उगाता है, लेकिन मिल अधिकारी सांठगांठ कर किसानों की कड़ी मेहनत का पैसा घटतौली कर डकार रहे हैं, अगर तौल सेंटर पर घटतौली बंद नहीं की जाती है, तो किसान आंदोलन करने को मजबूर होंगे, जिसकी जिम्मेदारी मिल प्रबंधन की होगी।

हंगामे के दौरान सुशील कुमार, सोनू, सुंदर, सुबोध, जोगिंद्र आदि दर्जनों किसान मौजूद रहे।

From around the web