6 वर्षीय बच्चे क़े अपहरण मामले में एक आरोपी को चार साल का सजा व जुर्माना, दूसरे को गैर जमानती वारंट जारी

 
न

मुजफ्फरनगर। छः वर्षीय बच्चे क़े अपहरण क़े मामले में गैंगस्टर कोर्ट ने एक आरोपी को चार साल क़े कठोर कारावास व 10 हजार रुपए जुर्माने से दंडित किया जबकि दूसरे आरोपी क़े बिना जमानती वारंट जारी किये है।

प्रकरण थाना आदर्श मंडी शामली का हैं, जहां ग्राम मुंडेट कलां निवासी वादी जसमेर ने दिनाँक 22/8/06 को तहरीर देकर वाद पंजीकृत कराया कि उसके छः वर्षीय पुत्र राहुल का जमीन कब्जाने की नियत से गाँव क़े ही राम कुमार पुत्र पूरण व सुक्खा पुत्र नकली ने अपहरण कर लिया है। पुलिस ने अपहरण की धारा क़े अलावा एससीएसटी की धारा में भी अभियोग पंजीकृत किया। घटना क़े दो दिन बाद ही तत्कालीन थानाध्यक्ष विनोद कुमार ने अपहरण कर्ताओं क़े चंगुल से बच्चे को सकुशल बरामद कर लिया और आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया, और रामकुमार और सुक्खा क़े विरुद्ध गैगस्टर एक्ट में भी चालान किया।

अभियोजन द्वारा गैंगस्टर कोर्ट में सभी आवश्यक गवाह प्रस्तुत किये। सुनवाई उपरांत गैंगस्टर जज कमलापति ने अभियुक्त रामकुमार को चार साल क़े कठोर कारावास और दस हजार रुपए जुर्माने से दंडित किया, जुर्माना न देने पर एक माह का अतिरिक्त कारावास भोगना होगा।  अभियुक्त जमानत पर बाहर था कोर्ट ने कस्टडी में लेकर जेल भेजने का आदेश दिया,जबकि सजा क़े समय दूसरे अभियुक्त सुक्खा क़े अनुपस्थित रहने पर उसके एन बी डब्लू जारी कर दिये।  इन दोनों को अपहरण क़े मामले मे पूर्व में तीन साल की सजा हो चुकी थी। जिसमें अभियुक्त जमानत पर बाहर थे। इस मामले में पैरवी संदीप सिंह अभियोजन अधिकारी, दिनेश पुंडीर व राजेश शर्मा विशेष लोक अभियोजक द्वारा की गई।

From around the web