मुजफ्फरनगर में बच्चों के लिए पुष्टाहार को भटक रही बेबस मां, 3 बच्चों में कुपोषण का खतरा 

 
न

मुजफ्फरनगर। जनपद में एक मां अपने बच्चों को पुष्टाहार न मिलने से परेशान है। आंगनवाड़ी की शिकायत लेकर लाचार मां कलक्ट्रेट में रोज भटक रही है।

सोमवार को परेशान हाल महिला डीएम कार्यालय पहुंची और उसके 3 छोटे बच्चों को पुष्टाहार न दिये जाने की शिकायत डीएम से की। जानसठ थाना क्षेत्र के गांव सिकंदरपुर रहने वाली रिजवाना का पति मजदूर है। रिजवाना ने बताया कि वह भी घरों में छोटे मोटे काम कर अपना जीवन यापन कर रही है। बताया कि उसके तीन छोटे बच्चों को सरकारी योजना से पुष्टाहार नहीं मिल पा रहा। जिस कारण बच्चे कुपोषित हो रहे हैं।

डीएम आफिस में दिये गए शिकायती पत्र में रिजवाना ने आरोप लगाया कि आंगनवाड़ी कार्यकर्ता ने उसे पुष्टाहार देने से इंकार कर दिया। जिस कारण उसके बच्चों का विकास अवरुद्ध होने का खतरा पैदा हो गया। कहा कि जब वह पुष्टाहार की मांग करती है तो आंगनवाड़ी कार्यकत्री उसके साथ दुर्व्यवहार करती है।

डीएम कार्यालय पहुंची रिजवाना ने अपनी व्यथा सुनाई। कहा कि उसका परिवार गरीब है। मजदूरी से इतना नहीं मिल पाता कि बच्चों को अच्छा खिला सके। पुष्टाहार के लिए बच्चे सरकारी योजना पर निर्भर है। लेकिन आंगनवाड़ी कार्यकर्ता उसे उसके हिस्से का पुष्टाहार नहीं दे रही। डीएम से इस मामले में गुहार लगाई कि बच्चों को पुष्टाहार दिलाया जाए। ताकि उसके तीन छोटे बच्चे कुपोषण का शिकार न हों।

From around the web