मुज़फ्फरनगर में भारी हंगामे के बीच जगदीश बालियान फिर बने जाट महासभा के अध्यक्ष, ओमकार अहलावत ने भी जताई दावेदारी

 
अस

मुजफ्फरनगर। जनपद जाट महासभा की आमसभा में जिलाध्यक्ष पद की दावेदारी को लेकर दो गुटों में जमकर हंगामा हुआ। वर्मा पार्क में हुई आम सभा में ओमकार सिंह अहलावत व जगदीश बालियान के बीच जिलाध्यक्ष पद की दावेदारी को लेकर हंगामा हुआ, लेकिन समाज के जिम्मेदार लोगों के हस्तक्षेप के बाद एक बार फिर जगदीश बालियान को ही जनपद जाट महासभा का अध्यक्ष बनाया गया है।

जनपद जाट महासभा की आमसभा रविवार को चौधरी चरण सिंह भवन, वर्मा पार्क के सभागार में बुलायी गयी थी। इस अवसर पर चौ. चरण सिंह की पुण्यतिथि के उपलक्ष में यज्ञ हवन का आयोजन हुआ और सभी ने पूर्व प्रधानमंत्री चौ. चरण सिंह को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके बाद जाट महासभा के कोषाध्यक्ष धर्मवीर बालियान ने विगत तीन वर्षों का आय-व्यय का ब्यौरा दिया और पूर्व बैठक की कार्यवाही की पुष्टि की। महामंत्री सुंदरपाल सिंह ने विगत तीन वर्षों के कार्यकाल की प्रगति आख्या प्रस्तुत की। सभी ने संगठन को मजबूत करने के लिए अपने विचार प्रस्तुत किये।

इसके बाद संरक्षक मंडल के प्रमुख कुंवर विजयराज ने आगामी तीन वर्षों के लिए जगदीश बालियान को ही अध्यक्ष बनाने की घोषणा की, जिस पर ओमकार अहलावत ने भी अपनी दावेदारी जतायी, जिसके चलते आमसभा में हंगामे की स्थिति खड़ी हो गयी, लेकिन समाज के जिम्मेदार लोगों ने तत्काल हस्तक्षेप कर सभी को शांत किया और फिर आम सहमति से जगदीश बालियान को ही जाट महासभा का अध्यक्ष घोषित किया। सभी ने हाथ उठाकर समर्थन किया।

इस अवसर पर मांगेराम वर्मा, देवीसिंह सिम्भालका, ब्रजवीर सिंह, युद्धवीर सिंह, महकार सिंह, अनिल चौधरी, डा. जीत सिंह, यशपाल सिंह, धर्मवीर मलिक, मनोज कुमार, भोपाल सिंह, डा. रवीन्द्र सिंह, मनोज राठी, ऋषिपाल सिंह, जगवीर सिंह, जयवीर सिंह, कुलदीप सिवाच, श्यापाल सिंह चेयरमैन, देवेन्द्र सिंह अहलावत आदि मौजूद रहे।

बैठक में हंगामे की स्थिति रही ,दूसरी तरफ ओमकार अहलावत ने दावा किया कि उन्हें बहुमत के आधार पर अध्यक्ष चुन लिया गया है , वे एक सप्ताह बाद ही जिला कार्यकारिणी की घोषणा कर देंगे। 

From around the web