मुज़फ्फरनगर: बाल-बाल बची स्कूली बच्चों की जान, मंसूरपुर में वैन पर गिरा विद्युत तार, ग्रामीणों में हंगामा

 
मंसूरपुर। गुरुवार सुबह मिल मंसूरपुर में थाने के पीछे नई बस्ती गोविंदपुरी कॉलोनी में क्षेत्र के एक स्कूल की वैन बच्चों को स्कूल में ले जाने के लिए गई थी, जब गाड़ी बच्चों से भर गई, तो ड्राइवर ने जैसे ही गाड़ी स्टार्ट की, तुरंत ही कॉलोनी के जर्जर हालत में विद्युत लाइन के तार टूट कर गिर गए और उनमें से बुरी तरह चिंगारियां निकलने लगी। सारी स्थिति को भांप कर वैन के ड्राइवर ने सजगता दिखाते हुए तेज गति से वैन को भगा ले गया। विद्युत तारों में चिंगारी उठते देख कॉलोनी वासियों में हड़कंप मच गया। सभी अपनी जान बचा कर इधर-उधर भागने लगे। इसी बीच कॉलोनीवासी दीपक कुमार पांगाल ने बेगराजपुर बिजली फीडर पर कॉल कर विद्युत सप्लाई को बंद कराया। कॉलोनी वासियों ने अपने घरों से बाहर निकलकर विद्युत विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा करना शुरू कर दिया। उनका कहना था कि समस्त कॉलोनी की विद्युत लाइन जर्जर हालत में है, कई बार शिकायत करने के बावजूद भी कोई सुनने को तैयार नहीं है। आज इतना बड़ा हादसा होने से बाल-बाल बच गया। इस हादसे में कई बच्चों की जान जा सकती थी। इस पूरे मामले की जानकारी मिलने पर भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक के नेता नीरज पहलवान, अक्षु त्यागी, पवित अहलावत, उमेश त्यागी, जोनी त्यागी, गौरव त्यागी, सुशील त्यागी, मोहित त्यागी सहित कई कार्यकर्ताओं को साथ लेकर मौके पर पहुंचे और विद्युत विभाग के खिलाफ धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। उन्होंने मौके पर विद्युत विभाग के जेई शोकिंद्र पाल तथा एसडीओ कपिल तेवतिया को मौके पर बुलाया और घंटों तक धूप में बैठाये रखा। घंटो तक हंगामा चलने के बाद एसडीओ तथा जेई ने तुरंत ही नये तार मंगाकर लाइन सुचारू करने के लिए कहा। कॉलोनी वासियों की अन्य लाइन को भी स्टीमेट बनाकर जल्द ही बदलवाने का आश्वासन दिया गया, तब जाकर पूरा मामला शांत हुआ।

मंसूरपुर। गुरुवार सुबह मिल मंसूरपुर में थाने के पीछे नई बस्ती गोविंदपुरी कॉलोनी में क्षेत्र के एक स्कूल की वैन बच्चों को स्कूल में ले जाने के लिए गई थी, जब गाड़ी बच्चों से भर गई, तो ड्राइवर ने जैसे ही गाड़ी स्टार्ट की, तुरंत ही कॉलोनी के जर्जर हालत में विद्युत लाइन के तार टूट कर गिर गए और उनमें से बुरी तरह चिंगारियां निकलने लगी। सारी स्थिति को भांप कर वैन के ड्राइवर ने सजगता दिखाते हुए तेज गति से वैन को भगा लिया। विद्युत तारों में चिंगारी उठते देख कॉलोनी वासियों में हड़कंप मच गया। सभी अपनी जान बचा कर इधर-उधर भागने लगे। इसी बीच कॉलोनीवासी दीपक कुमार पांगाल ने बेगराजपुर बिजली फीडर पर कॉल कर विद्युत सप्लाई को बंद कराया। कॉलोनी वासियों ने अपने घरों से बाहर निकलकर विद्युत विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा करना शुरू कर दिया।

उनका कहना था कि समस्त कॉलोनी की विद्युत लाइन जर्जर हालत में है, कई बार शिकायत करने के बावजूद भी कोई सुनने को तैयार नहीं है। इतना बड़ा हादसा होने से बाल-बाल बच गया। इस हादसे में कई बच्चों की जान जा सकती थी।

इस पूरे मामले की जानकारी मिलने पर भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक के नेता नीरज पहलवान, अक्षु त्यागी, पवित अहलावत, उमेश त्यागी, जोनी त्यागी, गौरव त्यागी, सुशील त्यागी, मोहित त्यागी सहित कई कार्यकर्ताओं को साथ लेकर मौके पर पहुंचे और विद्युत विभाग के खिलाफ धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। उन्होंने मौके पर विद्युत विभाग के जेई शोकिंद्र पाल तथा एसडीओ कपिल तेवतिया को मौके पर बुलाया और घंटों तक धूप में बैठाये रखा।

घंटो तक हंगामा चलने के बाद एसडीओ तथा जेई ने तुरंत ही नये तार मंगाकर लाइन सुचारू करने के लिए कहा। कॉलोनी वासियों की अन्य लाइन को भी स्टीमेट बनाकर जल्द ही बदलवाने का आश्वासन दिया गया, तब जाकर पूरा मामला शांत हुआ।

From around the web