अग्निवीर भर्ती में शामिल होने आए युवाओं ने सरकार पर उठाए सवाल, बोले बंद हो अग्निवीर भर्ती योजना 

 
न

मुजफ्फरनगर। कोरोना काल के बाद एक बार फिर 4 साल बाद मुजफ्फरनगर में सेना की भर्ती की जा रही है। 4 वर्ष बाद मुजफ्फरनगर में हो रही अग्निवीर भर्ती योजना को लेकर जहां युवाओं में काफी उत्साह नजर आ रहा है वहीं मुजफ्फरनगर जिला प्रशासन और केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान द्वारा 13 जनपदों से आने वाले अभ्यार्थियों के लिए रहने और खाने-पीने की निशुल्क सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। आज मंगलवार सुबह 4:00 बजे से मुजफ्फरनगर के नुमाइश ग्राउंड और स्पोर्ट्स स्टेडियम में अग्निवीर भर्ती के लिए लगभग 4 हजार से ज्यादा युवाओं ने अपनी-अपनी किस्मत आजमाई। हापुड़ जनपद से आए लगभग 100 से ज्यादा अभ्यार्थियों ने आज अग्निवीर भर्ती में अपनी किस्मत आजमाई। अग्निवीर भर्ती को लेकर भर्ती में शामिल होने आए युवाओं की अलग अलग राय है। युवाओं का कहना है कि अग्निवीर भर्ती योजना सरकार के लिहाज से ठीक होगी लेकिन हम युवाओं के हिसाब से यह योजना ठीक नहीं है। हम इसलिए भर्ती में शामिल होने आए हैं क्योंकि पिछले 4 साल से तो हम बेरोजगार है और लगभग 6 साल से सेना भर्ती की तैयारी कर रहे हैं। अगर हम इस योजना का विरोध करते हैं तो हम भी बेरोजगार हो जाएंगे इससे अच्छा यही है कि हम अग्निवीर बनकर देश की सेवा में अपना योगदान दें। वही कुछ युवाओं का कहना है कि सरकार को अग्निवीर योजना बंद कर देनी चाहिए जिस तरीके से पहले सेना की भर्ती होती थी उसी तरीके से भर्ती की जाए ताकि जो जुनून हमारे अंदर देश सेवा के लिए है वह पूरी जिंदगी राष्ट्र सेवा के लिए समर्पित रहे। लेकिन अगर सरकार ने 4 साल की नौकरी दी है तो इन 4 साल में हम क्या कर पाएंगे अग्निवीर भर्ती में शामिल होकर हम नए आधुनिक हथियारों की ट्रेनिंग लेंगे और फिर 4 साल बाद बेरोजगार हो जाएंगे जिसके बाद हम छठे हुए बदमाश बन जाएंगे और आप जैसे लोगों से लूटपाट और चोरी डकैती की घटनाओं को अंजाम देंगे।

From around the web