वेस्ट यूपी व बुंदेलखंड में स्थापित की जाएंगी हाईकोर्ट की बेंच, किसानों की शहादत का बदला लेना : जयंत

 
न

मुजफ्फरनगर। राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने बुढ़ाना में आशीर्वाद पथ रैली को संबोधित करते हुए कहा कि लोकनायक जयप्रकाश नारायण की सर्वोदय योजना को उनकी सरकार बनने पर लागू किया जाएगा और सर्वोदय योजना के तहत सभी वर्गों का विकास किया जाएगा। मानवतावादी विचारधारा को बढ़ावा देते हुए मानव संसाधन को विकसित किया जाएगा। सत्ता का विक्रन्द्रीयकरण किया जाएगा तथा अमीर-गरीब की खाई को समानता से भरा जाएगा। उन्होंने कहा कि लोगों को सस्ता एवं सुलभ न्याय मिल सके, इसके लिए वेस्ट यूपी व बुंदेलखंड में हाईकोर्ट बेंच की स्थापना की जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी को सुरक्षा की गारंटी दी जाएगी तथा बेहतर शिक्षा के लिए भी काम करेंगे। देश-दुनिया के सर्वश्रेष्ठ कॉलेजों में एससी/एसटी के प्रतिभावान बच्चों का एडमिशन कराकर उनकी पढ़ाई का खर्च भी हमारी सरकार उठाएगी। जयंत चौधरी ने कहा कि वे आशीर्वाद लेने आए हैं, आगे बड़ी लड़ाई है, राह आसान नहीं है। सभी को परिवार की तरह एक साथ मिलकर लड़ाई लडऩी है। उन्होंने लोगों का आह्वान  किया  कि चौधरी चरण सिंह की विचारधारा को द्वार-द्वार पहुंचाने काम करें। उन्होंने अपने पिता चौधरी अजित सिंह को याद करते हुए कहा कि उनके अधूरे सपनों को साकार करना भी हम सभी की जिम्मेदारी है। चूंकि चौधरी अजित सिंह की यह कर्मस्थली है, मैं जानता हूं कि अंतिम समय में आपने उनके अंतिम दर्शन नहीं किए हैं, इसलिए आप लोगों के मन में उनके लिए आदर है, दर्द है और आप लोग छपरौली में मुझे पगड़ी देना चाहते थे, लेकिन मैं स्वयं अब आपके बीच में हूं। मुझे यहां आकर जो ऊर्जा मिली है, वह मेरे राजनीतिक व सामाजिक जीवन में प्रेरणा का कार्य करेगी। उन्होंने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि नौजवानों को अंधकार में रखा गया है। हमारे मतों से बनी सरकार हमारे ही हितों की अनदेखी कर रही है। लखीमपुर खीरी की घटना का जिक्र करते हुए जयंत चौधरी ने कहा कि इस कांड का प्रभाव पूरे प्रदेश व देश में हैं, हमें वहां शहीद हुए लोगों को हमेशा याद रखना होगा, क्योंकि उन्होंने हमारे लिए कुर्बानी दी है। जयंत चौधरी ने कहा कि चुनावी वर्ष है, विभिन्न पार्टियों के लोग आपके बीच आएंगे, जो लोग इस कांड पर आज चुप बैठे हैं, उनसे पूछना कि आप क्यों चुप थे। हमें उन शहीदों को नहीं भूलना है, भाजपा सरकार उन्हें भुलाने की कोशिश करेगी। जयंत चौधरी ने कहा कि आप लोगों को अपने किसान भाइयों के अपमान व शहादत का बदला लेना होगा। आप अपनी वोट की चोट से सरकार की चूलें हिलाने का काम कर सकते हो। उन्होंने कहा कि चौधरी चरण सिंह गांव के लोगों को मुख्यधारा में लाना चाहते थे, उसी ताकत के साथ इस काम में फिर जुटें, सरकार तो किसानों का शोषण कर रही है। उन्होंने कोरोना काल का जिक्र करते हुए कहा कि उस समय सभी के रोजगार ठप हो गए थे और नौजवानों की नौकरियां छूट गई थीं, रोजगार खत्म हो गए थे, काफी लोग पैदल चलकर अपने घरों तक पहुंचे थे, तब भी यह सरकार गूंगी और बहरी बनी रही। जयंत चौधरी ने कहा कि भाजपा सरकार कहती है कि हम किसानों की आय दोगुनी कर देंगे, लेकिन 2022 आने में मात्र ढाई माह शेष बचा है, तो किस अलादीन चिराग से किसानों की आय दोगुनी करेंगे। गन्ने का मूल्य मात्र 35 पैसे किलो ही बढ़ा पाए हैं, जबकि लागत बेतहाशा बढ़ी है। जयंत चौधरी ने कहा कि बिजली, खाद, ढुलाई, गुड़ाई, छिलाई के रेट तो बढ़े ही हैं, साथ ही गैस, डीजल, खादान्न तेल के दाम भी रोज बढ़ रहे हैं। यह सरकार जनता से खुली लूट कर रही है। भाजपा सरकार में तो सिर्फ अड़ानी की तरक्की हुई है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार पूंजीपतियों के रिमोट से चलती है और उत्तरप्रदेश की योगी सरकार बिना कंट्रोल के चल रही है। यूपी के सीएम योगी अमर्यादित भाषा का प्रयोग कर रहे हैं। जयंत चौधरी ने कहा कि योगी बुलडोजर चलाने की बात करते हैं, देखना यह है कि खीरी के किसानों के कातिलों के घर बुल्डोजर कब चलेगा। एक गुंडा पीछे से आकर किसानों को रौंद देता है, ऐसी घटना को आतंकवादी ही कर सकते हैं। पांच दिन तक सरकार मंत्री के बिगड़ैल बेटे को गिरफ्तार नहीं कर पाई, आखिर में वह स्वयं ही उनके यहां पहुंचा और पुलिस द्वारा खातिरदारी करते हुए उससे पूछताछ की गई । जयंत चौधरी ने कहा कि यह सरकार किसानों को 14 दिन के भीतर गन्ना भुगतान का कानून हटाना चाहती है, उन्होंने कहा कि जब हमारी सरकार आएगी, तो गन्ने की लागत का डेढ़ गुना भाव दिया जाएगा। जयंत चौधरी ने कहा कि दो हजार पांच सौ करोड़ का एक कोष स्थापित किया जाएगा, जिसमें प्रावधान होगा कि नौजवानों को स्वरोजगार के लिए धनराशि मुहैया कराई जाएगी। जयंत चौधरी ने कहा कि आशीर्वाद पथ यात्रा अब परिवर्तन की तरफ जा रही है और अब अधिक दिन इस सरकार के नहीं है। भाजपा सरकार का पतन निश्वित है। इस दौरान जयंत चौधरी को क्षेत्रीय लोगों ने पगड़ी बांधी और नौ लाख की थैली भेंट की।  सभा के दौरान क्षेत्र के दो दर्जन से अधिक ग्राम प्रधानों ने रालोद में शामिल होने की घोषणा की। इस मौके पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री सोमपाल शास्त्री, शाहिद सिद्दीकी, रालोद के महासचिव राजेन्द्र शर्मा, नरेन्द्र खजूरी, श्याम सिंह, वीरपाल मलिक, रालोद के मीडिया कॉर्निटेर सुरेन्द्र शर्मा, प्रदेश प्रवक्ता रेखा चौधरी, पूर्व मंत्री धर्मवीर बालियान, पूर्व मंत्री योगराज सिंह, पूर्व विधायक नूरसलीम राना, प्रदेश प्रवक्ता कमल गौतम, प्रवक्ता अभिषेक चौधरी,  राष्ट्रीय सचिव रमानागर, सोमपाल बालियान आदि मौजूद रहे। मंच का संचालन रालोद के जिलाध्यक्ष प्रभात तोमर ने किया।

From around the web