भक्ति भूषण महाराज के समर्थन में उतरी क्रांति सेना, न्याय दिलाने को संघर्ष का किया ऐलान

 
न


मुजफ्फरनगर। क्रांति सेना के सैकड़ों कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों ने शुक्रताल स्थित गोडिया मठ के संचालक भक्ति भूषण गोविंद महाराज का उत्पीडऩ कर रहे आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग को लेकर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन करते हुए पुलिस पर आरोपियों को शह देने का आरोप लगाया है।

इस अवसर पर क्रांति सेना  पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने एसएसपी की अनुपस्थिति में एसपी क्राइम को अपनी मांगों से संबंधित ज्ञापन दिया।  क्रांति सेना के मंडल अध्यक्ष मुकेश त्यागी, पूर्व जिला प्रभारी शरद कपूर, पूर्व जिला महासचिव देवेंद्र चौहान, पूर्व नगर अध्यक्ष लोकेश सैनी ने आरोप लगाया कि  उक्त आरोपियों ने पूर्व में भी एक षड्यंत्र के तहत मठ के संचालक को जेल भिजवा दिया था, जिसमें मठ संचालक लगभग 8-10 महीने जेल में  बंद रहे। उनके जेल में रहने के दौरान आरोपियों द्वारा मठ के कर्मचारी गोविंद दास से मिलकर मठ की तिजोरी में रखें लगभग 50  लाख के जेवरात व नकदी चोरी कर ली गई थी, जिसका  पता चलने पर मठ संचालक भक्ति भूषण महाराज द्वारा अपने कर्मचारी गोविंद के विरुद्ध नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी, जिसमें  उक्त आरोपी विकास पंवार  के नाम का भी जिक्र है, इसके अतिरिक्त अभी हाल ही में मठ में जाकर स्वामी जी को धमकी देने व रंगदारी की मांग करने वाले विकास पंवार नामक व्यक्ति पर मठ की संपत्ति खुर्द-बुर्द  करने का आरोप है, लेकिन दो-दो बार एफआईआर किए जाने के बावजूद आरोपियों पर पुलिस पूरी तरह मेहरबान है। पुलिस की कार्यप्रणाली से गौडिया मठ के संचालक भक्ति भूषण गोविंद महाराज को जान का खतरा बना हुआ है, वहीं आरोपियों के हौंसले बुलंद हैं। क्रांति सेना नेताओं ने मठ संचालक भक्ति भूषण महाराज की सुरक्षा के साथ उनके द्वारा दर्ज मुकदमों में आरोपियों के विरुद्ध शीघ्र कार्यवाही की मांग की। इस अवसर पर राजेश कश्यप, आनंद प्रकाश गोयल, शैलेंद्र शर्मा, आशीष मिश्रा, भुवन मिश्रा, शक्ति सिंह, विकास गोयल, जॉनी कश्यप, सुनील प्रजापति, अर्जुन गोस्वामी, राजन वर्मा, कुलदीप सूर्यवंशी, सौरव रॉक, जंगी वाल्मीकि, गौरव वर्मा, अमित शर्मा, नितिन कश्यप, प्रदीप कुमार आदि उपस्थित रहे।

From around the web