मुजफ्फरनगरः राष्ट्रीय लोकदल के नेताओं ने सत्ता पक्ष के दबाव में गलत मतगणना करने का लगाया आरोप, सौंपा ज्ञापन

 
1

उत्तर प्रदेश के जनपद मुज़फ्फरनगर में हुई त्रिस्तरीय पंचायती चुनाव की मतगणना के नतीज़े सामने आ चुके है, वही राष्ट्रीय लोकदल के नेताओं ने सत्ता पक्ष के दबाव में गलत मतगणना करने का आरोप लगाते हुए मंगलवार को जिला कलेक्ट्रेट पहुँचकर प्रदर्शन किया।  इस दौरान जिला कलेक्ट्रेट पर प्रशासन के द्वारा भारी पुलिस फ़ोर्स को तैनात कर बैरीकैडिंग की गई थी, लेकिन रालोद नेता और कार्यकर्ता बैरीकैडिंग को हटाते हुए नगर मजिस्ट्रेट के कार्यालय तक पहुँच गये। जिसके बाद रालोद कार्यकर्ताओं और नेताओं ने एक ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट देते हुए मामले में उचित कार्यवाही की माँग की।

रालोद के जिलाध्यक्ष अजित राठी ने बताया कि कल वार्ड 42 से उनकी पार्टी के समर्थित प्रत्याशी प्रभात तोमर को जिला प्रशासन ने विजयी घोषित कर दिया था और प्रमाणपत्र आज देने को बोला था, लेकिन रात में सत्ता पक्ष के दबाव में आकर जिला प्रशासन ने उनके प्रत्याशी और एजेंटों को जानकारी दिए बगैर ही रिकाउंटिंग कराकर बीजेपी के उमीदवार को वहाँ से विजयी घोषित कर दिया है जोकि लोकतंत्र की हत्या है।

From around the web