मुजफ्फरनगरः केंद्रीय राज्य मंत्री संजीव बालियान के भाई को भाकियू ने घोषित किया जिला पंचायत अध्यक्ष पद का प्रत्याशी 

 
1

मुज़फ्फरनगर। मुजफ्फरनगर के राजनीतिक गलियारों में उस समय हलचल मच गई, जब बीजेपी के केंद्रीय राज्य मंत्री संजीव बालियान के तहेरे भाई सतेंद्र बालियान ने अपने ही भाई से बग़ावत करते हुए भाकियू का दामन थाम लिया, जिसके चलते विपक्ष ने भी तुरंत मौके को भुनाते हुए उन्हें अपना समर्थन देकर जिला पंचायत अध्यक्ष पद का उम्मीदवार घोषित कर दिया। 
आपको बता दें कि सतेंद्र बालियान ने हाल ही में त्रिस्तरीय पंचायती चुनाव में वार्ड 18 जिला पंचायत सदस्य के चुनाव में जीत हासिल की है, लेकिन मंगलवार को जिला पंचायत अध्यक्ष पद के संग्राम में भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने दिलचस्पी लेते हुए सिसौली गाँव में 21 जिला पंचायत सदस्यों के साथ एक पंचायत की। जिसमें सर्वसम्मति से विपक्ष ने अपना समर्थन देते हुए सतेंद्र बालियान को जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया, लेकिन इसके लिए केवल ढाई साल के लिए सहमति बनी। बैठक में निर्णय लिया गया कि अध्यक्ष पद पर ढाई साल बाद अगले ढाई साल के लिए आज़ाद समाज पार्टी की जिला पंचायत सदस्य तहसीन बानो पत्नी सईदुज्जमा होगी। इस बाबत जब हमने सतेंद्र बलियान से बात करना चाही तो उन्होंने क्षेत्र में होने की बात कहकर अपना पल्ला झाड़ लिया। खैर जो भी हो मंत्री के भाई के सिर विपक्ष द्वारा पहनाई गई पगड़ी ने इस समय तो भाजपा का गणित पूरी तरह से बिगाड़ दिया है, आपको बता दें कि जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए बीजेपी पहले ही वीरपाल निर्वाल को मैदान में उतार चुकी है और इस बार जिला पंचायत अध्यक्ष पद का ये चुनाव मंत्री संजीव बालियान के लिए भी प्रतिष्ठा का सवाल बन गया है। क्योंकि बीजेपी ने उन्हें इसकी जिम्मेदारी सौंपी है, इन हालत पर अब देखना ये होगा कि ऊंट किस करवट बैठता है। 

From around the web