शामली में बीजेपी नेता व पूर्व चेयरमैन अरविंद संगल गए जेल, एससी-एसटी एक्ट के मुकदमे में भेजा 

 
न

शामली। बीजेपी नेता व पूर्व चेयरमैन अरविंद संगल के खिलाफ एससी एसटी एक्ट के मुकदमे में 4 दिन पूर्व गैर जमानती वॉरंट होने के बाद कैराना न्यायालय ने उन्हें जेल भेज दिया है।जिसके चलते निकाय चुनाव से पहले ही शामली की राजनीति में एक नया मोड़ आ गया है।क्युकी पूर्व चेयरमैन अरविंद संगल इस बार निकाय चुनाव में चेयरमैन पद के प्रबल दावेदार माने जा रहे है।

आपको बता दे की पूरा मामला सन 2016 का है।जब शामली नगर पालिका की तत्कालीन अधिशासी अधिकारी अमिता वरुण द्वारा पूर्व चेयरमैन अरविंद संगल के खिलाफ एससी एसटी एक्ट की गंभीर धाराओं में शहर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया था।जिसके बाद अभी करीब 4 दिन पूर्व न्यायालय द्वारा एससी एसटी एक्ट के मामले में अरविंद संगल के खिलाफ गैर जमानती वॉरंट जारी किए गए थे।जिसके चलते बुधवार को पूर्व चेयरमैन अपने वकील के साथ कोर्ट में पेश हुए और जमानत याचिका दाखिल की।जहा कोर्ट में लंबी बहस के बाद उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी गई।जिसके बाद उन्हें न्यायालय कैराना ने जेल भेज दिया।इस दौरान पूर्व चेयरमैन करीब 5 घंटे तक न्यायिक हिरासत में रहे।

From around the web