सीआरपीएफ जवान को श्रद्धांजलि देने आए जयंत चौधरी ने वित्त मंत्री के बयान पर किया पलटवार

 
म

शामली। राष्ट्रीय लोक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी आज जनपद शामली के गांव सिलावर में पहुंचे थे। जहां पर उन्होंने अंकुर तरार नाम के सीआरपीएफ जवान के घर जाकर अंकुर को श्रद्धांजलि दी है। वही जंयत चौधरी ने पीड़ित परिवारों से मिलते हुए उन्हें सांत्वना दी है। वही मीडिया से बात करते हुए जयंत ने कहा कि देश की वित्त मंत्री द्वारा महंगाई पर दिए गए बयान पर मुझे अफसोस है। क्योकि वित्त मंत्री द्वारा कहा गया कि महंगाई की मार अमीरों पर ज्यादा पड़ती है जबकि मध्यमवर्ग और गरीबों पर इसका असर कम होता है। मुझे अफसोस है कि इस तरह का बयान वित्त मंत्री द्वारा दिया गया है।
आपको बता दें कि राष्ट्रीय लोक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी आज जनपद शामली के गांव सिलावर में पहुंचे थे। जहां पर उन्होंने सीआरपीएफ के जवान अंकुर तरार के घर पर जाकर अंकुर को श्रद्धांजलि अर्पित की है। क्योंकि सीआरपीएफ जवान अंकुर तरार की गत 2 मई को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हार्टअटैक के दौरान मौत हो गई थी। जिसका गांव सिलावर में 4 मई को अंतिम संस्कार किया गया था। अंकुर वर्ष 2012 में सीआरपीएफ में भर्ती हुआ था। वही सीआरपीएफ जवान की मौत की खबर जैसे ही जयंत चौधरी को मिली तो उन्होंने जवान के परिवार से मिलने का मन बना लिया। जिसके बाद आज जयंत चौधरी गांव सिलावर में सीआरपीएफ जवान अंकुर तरार के घर पर पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे। जहां पर उन्होंने अंकुर को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए वही पीड़ित परिवार को सांत्वना दी है। वही गाँव सिलावर में मीडिया से बात करते हुए जयंत चौधरी ने देश के वित्त मंत्री द्वारा महंगाई पर दिए गए बयान पर अफसोस जताया है। जयंत चौधरी ने कहा कि देश की वित्त मंत्री द्वारा महंगाई पर कहा गया कि महंगाई का प्रभाव अमीरों पर ज्यादा पड़ता है जबकि मध्यम और गरीबों पर इसका इतना प्रभाव नहीं पड़ता है। कोई भी आर्थिक विषयों का जानकार ऐसा बयान नहीं देता है लेकिन वह वित्त मंत्री हैं उन्होंने ऐसी बात कही। उन्हें बंदोबस्त करना चाहिए। क्योंकि जिस प्रकार से डीजल महंगा, बिजली महंगी व खाद बीज महंगा हो रहा है, किसान की लागत बढ़ती जा रही है उस पर सरकार को बंदोबस्त करना चाहिए।

From around the web