उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के पदाधिकारियों ने शिक्षकों की मांगों को लेकर डीआईओएस कार्यालय पर दिया धरना 

 
व
शामली। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के पदाधिकारियों ने शिक्षकों की विभिन्न मांगों को लेकर डीआईओएस कार्यालय पर एक दिवसीय धरना देकर 18 सूत्रीय मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा। जिसमें उन्होने शिक्षकों की मंागों को पूरा करने की मांग की है।
मंगलवार को शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष रजनीश कुमार के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक के पदाधिकारियों ने डीआईओएस कार्यालय पर एक दिवसीय धरना देकर डीआईओएस सरदार सिंह को ज्ञापन सौंपा, जिसमें उन्होने कहा कि शिक्षा का निजीकरण बंद किया जाये। पुरानी पेंशन बहाल की जाये। सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों में शिक्षकों के गोपनीय एवं अनियमित ढंग से किए जा रहे आफलाईन स्थानांतरण पर रोक लगाई जाये। प्रधानाचार्य की भर्ती में चयनबोर्ड के द्वारा लिखित परीक्षा आयोजित कराई जाये। शिक्षकों की कैशलेस चिकित्सा प्रतिपूर्ति की सुविधा प्रदान की जाये। प्रदेश के सभी स्ववित्तपोषित विद्यालयों में विभागीय सक्षम अधिकारी के द्वारा उनकी छात्र संख्या के सापेक्ष मानकानुसार शिक्षकों की संख्या का निर्धारण किया जाये। भ्रष्टाचार को रोकने के लिए शिक्षा विभाग के सभी कार्यालयों में ई-फाईलिंग तथा प्रत्येक पटल पर अधिकतम 3 दिन में फाईलों का निस्तारण सुनिश्चित कराया जाये। इस अवसर पर अंकुर, डा. राजेश मोहन शर्मा, कैप्टल लोकेन्द्र सिंह, अमित बेनिवाल, सुनील कुमार, अनिल कुमार, रामाकंात, दीपक शर्मा, नरेन्द्र कुमार, रामबीर गौड, राविन्द्र कुमार, सुरेन्द्र पांडे आदि मौजूद रहे।
 

From around the web