कैराना में अरविंद संगल के मामले में वादिया ने किया नोटिस तामील

 
म

कैराना। नगर पालिका परिषद शामली के पूर्व चेयरमैन एवं भाजपा नेता अरविंद संगल को बुधवार में कोर्ट ने जेल भेज दिया है।  वही न्यायालय की ओर से वादिया को अपना पक्ष रखने के लिए भेजा गया नोटिस तामील किया है। शुक्रवार को मामले में सुनवाई के लिए तिथि नियत की गई है।

गत बुधवार को शामली नगरपालिका परिषद के पूर्व चेयरमैन एवं भाजपा नेता अरविंद संगल ने कैराना स्थित अपर जिला एवं सत्र न्यायालय में पहुंचकर आत्मसमर्पण कर दिया। कोर्ट ने उन्हें जेल भेज दिया था। पूर्व चेयरमैन के खिलाफ शामली नगरपालिका की तत्कालीन ईओ अमिता अरुण ने सात अप्रैल 2016 को गाली-गलौच एवं जाति सूचक शब्दों का इस्तेमाल किये जाने का अभियोग पंजीकृत कराया था। इसी मामले में अरविंद संगल के खिलाफ कोर्ट से गैर जमानती वारंट जारी हुए थे। पूर्व चेयरमैन अरविंद संगल के अधिवक्ता ब्रहमपाल सिंह चौहान ने जानकारी देते हुए बताया कि कोर्ट ने मामले की वादिया तत्कालीन ईओ अमिता अरुण को अपना पक्ष रखने के लिए नोटिस भेजा था जिसे वादिया ने स्वीकार किया है। शुक्रवार को न्यायालय में मामले से सम्बंधित सुनवाई होगी।

From around the web