जनपद शामली को मिली 4.25 मीट्रिक टन लिक्विड ऑक्सीजनः डीएम

 
जनपद शामली को मिली 4.25 मीट्रिक टन लिक्विड ऑक्सीजनः डीएम

शामली। कोरोना वायरस कोविड-19 वैश्विक महामारी के बढ़ते प्रसार के दृष्टिगत जिलाधिकारी जसजीत कौर ने कहा कि जनपद शामली को मेरठ जनपद से 4.25 मीट्रिक टन लिक्विड ऑक्सीजन प्राप्त हो गई है। जिलाधिकारी ने कहा कि प्राप्त ऑक्सीजन से अस्पतालों में भर्ती ऑक्सीजन के पेशेन्ट को ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित कराई जाएगी। इसके अलावा जिलाधिकारी ने कहा कि किसी को भी व्यक्तिगत प्रयोग के लिए घर पर सिलेंडर की सुविधा या उनका सिलेंडर भरने की सुविधा नहीं दी जाएगी। डीएम ने स्पष्ट किया कि हमारी प्राथमिकता अस्पताल में भर्ती पेसेंट है। इसके अलावा जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि कहा कि यदि किसी को सांस लेने में दिक्कत हो रही है या उनकी कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव है तो इस स्थिति में वह तुरंत अस्पताल से संपर्क करें और अस्पताल में भर्ती हो, वहां पर उनको ऑक्सीजन की सुविधा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि घर के लिए ऑक्सीजन की सुविधा किसी को नहीं दी जाएगी। डीएम ने एक सुर में कहा कि हॉस्पिटल में ऑक्सीजन की आपूर्ति करना हमारी प्राथमिकता है। इसके अलावा जिलाधिकारी ने कहा कि किसी भी प्रकार की समस्या के लिए जिला मुख्यालय पर स्थापित कंट्रोल रूम नंबर 01398-270203 एवं मुख्य चिकित्साधिकारी के कोविड-19 कंट्रोल रूम नंबर-9389706728 पर फोन कर समस्या बता सकते हैं जिसका तत्काल निराकरण किया जायेगा।

सीएमओ डा. संजय अग्रवाल ने बताया कि जिले में दवाईयों की कोई कमी नहीं है। वेंटीलेटर के स्थान पर हाई फ्लो कैनल आक्सीजन मशीनों का भी प्रयोग हो रहा है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने ‌यह भी जानकारी दी कि होम आइसोलेट रह रहे व्यक्तियों से कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन कराया जा रहा है और साथ ही अनुरोध किया कि होम आइसोलेट रोगी घर पर ऑक्सीजन सिलेंडर का प्रयोग ना करें क्योंकि ज्यादा या कम मात्रा में ऑक्सीजन लेने से जीवन को नुकसान पहुंचता है। कांटेक्ट ट्रेसिंग की जा रही है। इसके अलावा मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि जिला मुख्यालय पर स्थापित एकीकृत कॉविड कमांड कंट्रोल सेंटर 01398-270203 प्रतिदिन दिन में दो बार मरीजों के परिवारजनों को उनकी सेहत के बारे में भी जानकारी दी जाती है।

From around the web