शामली में जिला संयुक्त जिला चिकित्सालय का डीएम ने किया औचक निरीक्षण

 
न
शामली। डीएम जसजीत कौर ने शुक्रवार को जिला संयुक्त जिला चिकित्सालय का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कई चिकित्सक अनुपस्थित मिले। डीएम ने सभी अनुपस्थित चिकित्साकर्मियों को स्पष्टीकरण जारी करने के कडे निर्देश दिए। डीएम ने अस्पताल में मरीजों से भी मिल रहे उपचार के संबंध में जानकारी ली। डीएम ने कोरोना वैक्सीनेशन सेंटरों का भी निरीक्षण किया तथा शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन करने के दिशा निर्देश दिए। डीएम के निरीक्षण से अस्पताल में हडकंप मचा रहा।
जानकारी के अनुसार डीएम जसजीत कौर ने शुक्रवार को जिला संयुक्त चिकित्सालय का औचक निरीक्षण किया। डीएम को देखकर अस्पताल में खलबली मच गयी। निरीक्षण के दौरान मुख्य चिकित्साधीक्षक डा. सफल कुमार व अन्य चिकित्साधिकारी मौजूद रहे। डीएम ने उपस्थिति रजिस्टर की भी जांच की जिसमें सुनील कुमार रुहेला फार्मासिस्ट, सुनील कुमार द्वितीय, अजय कुमार, अनिता पुरी चीफ फार्मासिस्ट, पूरनसिंह एव प्रदीप कुमार वरिष्ठ सहायक, डा. इंतजार के उपस्थिति हस्ताक्षर नहीं मिले। डीएम द्वारा पूछने पर बताया गया कि सुनील कुमार द्वितीय हस्ताक्षर नहीं कर पाए, अजय कुमार की ड्यूटी शिफ्ट 2 से 8 बजे तक है, पूरनसिंह, सीएचसी गए हुए हैं जोकि निरीक्षण के दौरान वहां पहुंच गए। इनके अलावा शेष अन्य बिना कारण बताए तथा बिना अवकाश लिए अनुपस्थित मिले। डीएम ने मुख्य चिकित्साधीक्षक को अनुपस्थित कर्मचारियांे स्पष्टीकरण कर अपनी टिप्पणी सहित उपलब्ध कराने तथा अग्रिम आदेशों तक उनका वेतन आहरित न करने के निर्देश दिए। डीएम ने अस्पताल की ओपीडी का भी निरीक्षण किया जहां मरीज उपस्थित मिले। निरीक्षण के समय 28 मरीजों की ओपीडी हो चुकी थी। मुख्य चिकित्साधीक्षक ने बताया कि प्रतिदिन लगभग 60 से 65 मरीजों की ओपीडी हो जाती है। कम ओपीडी पर उन्होंने बताया कि यहां स्टाफ नर्स एवं चिकित्सकों की कमी है। आकस्मिक चिकित्साधिकारी अलताफ की तैनाती है लेकिन वे सीएमओ के कार्यालय में कार्य कर रहे हैं। सीएमओ ने उन्हें अभी तक रिलीव नहीं किया है। डीएम ने अस्पताल में समुचित स्टाफ की तैनाती करने के भी निर्देश दिए। डीएम ने इमरजैंसी का भी निरीक्षण किया जहां बैड व साफ सफाई दुरूस्त मिली। डीएम ने कोविड-19 टीकाकरण केन्द्रों का भी निरीक्षण किया जहां सभी कर्मचारी मौजूद रहे। डीएम ने सभी कर्मचारियों को शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन करने के भी निर्देश दिए। डीएम के औचक निरीक्षण से अस्पताल में हडकंप मचा रहा।

From around the web