शामली में बेटी को आत्महत्या के लिए उकसाने वालों पर पिता ने कराया मुकदमा दर्ज

 
व
शामली। बाबरी क्षेत्र के गांव कैडी निवासी एक व्यक्ति ने पुत्री को आत्महत्या के लिए उकसाने वाले लोगों पर मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाने व इंकार करने पर धमकी देने का आरोप लगाते हुए महिला थाने पर गुहार लगायी है। जानकारी के अनुसार बाबरी क्षेत्र के गांव कैडी निवासी तहसीन ने महिला थाने पर प्रार्थना पत्र देते हुए बताया कि उसकी पुत्री खुशबू का रिश्ता थानाभवन के गांव हींड निवासी अनस पुत्र अहसान के साथ तय हुआ था। रिश्ता तय होने के 10-15 दिन बाद शादी होनी थी लेकिन 11 जनवरी की रात अनस ने फोन पर खुशबू से शादी करने से साफ इंकार कर दिया, खुशबू ने अपने पिता को इस बात की जानकारी दी तो तहसीन ने अनस के पिता, चाचा भाई आदि से इस संबंध में बात की तो उन्हांेने भी शादी करने से साफ इंकार कर दिया जिसके बाद उसकी पुत्री मानसिक तनाव में आ गयी और उसने कमरे में छत के पंखे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर दी। उसने अनस, पिता अहसान, चाचा गुफरान, भाई अजाज के खिलाफ बाबरी थाने पर मुकदमा दर्ज करा दिया था। पीडित का आरोप है कि गत दिवस उसके भाई नौशाद को विपक्षी अजाज शामली में मिला तथा मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाया तथा ऐसा न करने पर धमकी दी। पीडित ने पुलिस से आरोपितों के खिलाफ कडी कार्रवाई किए जाने की मांग की है। 

From around the web