शामली: कोरोना की वैक्सीन लगवाने गई तीन महिलाओं को लगा दिया एंटी रैबीज का टीका

 

शामली। कांधला सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है जहां कोरोना वैक्सीन का टीका लगवाने गई तीन वृद्ध महिलाओं को रैबिज का टिका लगा दिया। एक वृद्ध महिला की हालत गंभीर हो जाने के बाद स्वास्थय केन्द्र की लापरवाही उजागर हो गई। जिसे लेकर परिजनों ने जमकर हंगामा कर सीएमओ से मामले की शिकायत कर कार्रवाही की मांग की गई। लेकिन स्वास्थ्य विभाग अपनी इस बड़ी लापरवाही को अब छिपाने में जुटा है।

कोरोनो वैक्सीन टीकाकरण के लिए प्रदेश सरकार करोडों रूपये खर्च कर आमजन को जागरूक करने में जुटी है। लेकिन कांधला सामुदायिक स्वास्थय केन्द्र कोरोन व रैबिज टीकाकरण में ही अन्तर नही समझ पा रहा है। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में आए दिन प्रसव व विभिन्न स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर कर्मचारीयों की लापरवाही सामने आती रहती है। लेकिन उसके बाद भी स्वास्थ्य विभाग अपनी कारगुजारियों से सबक लेकर सुधार की पटरी पर लौटने से किनारा कर चुका है। ताजा मामला कांधला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर सामने आया है। जहा गुरूवार को कांधला निवासी 70 वर्षीय सरोज, 72 वर्षीय अनारकली, 60 वर्षीय सत्यवती सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में कोरोना की पहली वैक्सीन लगवाने के लिये पंहुची थी। आरोप है कि जैसे ही महिलायें स्वास्थ्य केन्द्र पर उपस्थित कर्मचारियों के पास वैक्सीन के लिये पंहुची, तो स्वास्थ्य कर्मचारियों ने तीन महिलाओं को बाहर से 10-10 रूपये की खाली सिरिज मंगाकर रैबिज का टीका लगाकर अपने घर चले जाने को कह दिया। शिक्षा का अभाव होने पर महिलायें अपने घर वापस आ गई। आरोप है कि इसी बीच वृद्ध महिला सरोज की हालत बिगड़ गई। महिला को तेज चक्कर आने के बाद घबराहट शुरू हो गई। परिजनों ने आनन-फानन में प्राईवेट चिकित्सक के पास वृद्ध महिला सरोज को उपचार कराने के लिये ले गए और चिकित्सक को स्वास्थ्य केन्द्र की पर्ची दिखाकर कोरोना वैक्सीन लगवाने का हवाला दिया, तो प्राईवेट चिकित्सक स्वास्थ्य केन्द्र पर्ची देखकर हैरान रह गया। प्राईवेट चिकित्सक ने महिला के परिजनों को बताया कि स्वास्थ्य केन्द्र पर महिला को रैबिज का टीका लगाया गया है। तीनों महिलाओं के परिजनों ने मामले की जांच पड़ताल की तो सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के कर्मचारियों की पोल खुल गई। स्वास्थ्य केन्द्र पर तीनों वृद्ध महिलाओं को कोरोना वैक्सीन के स्थान पर रैबिज का टीका लगा दिया। मामले को लेकर पीड़ित महिलाओं के परिजनों ने हंगामा करते हुए सीएमओ शामली संजय अग्रवाल को मामले के शिकायत करते हुए कार्रवाही की मांग की है।

उधर डीएम जसजीत कौंर ने बताया है। कांधला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का एक प्रकरण प्रकाश में आया है। जिसके सम्बंध में एक एसीएमओ और एसडीएम कैराना को जांच के लिए नामित किया गया है।जिसमें ये शिकायतकर्ता पीडित के बयान लेगे और काधला अस्पताल मे जाकर पूरी जांच करेगे और आज शाम तक एक स्पष्ट आख्या डीएम को सौंपेंगे जो भी इस प्रकरण में दोषी पाए जाएंगे।

From around the web